कांग्रेस महिला मैराथन में कई लड़कियां दबकर घायल , मैराथन के दौरान लड़कियों की चीख पुकार

Many girls injured in Congress Women's Marathon, screaming of girls during marathon

बरेली में कांग्रेस ने मैराथन दौड़ का आयोजन किया। लेकिन इस दौरान भगदड़ मच गई। इतना ही नहीं कई लड़कियां

दबकर घायल भी हो गई। वीडियो में देखा जा सकता है कि मैराथन के दौरान लड़कियों की चीख पुकार सुनाई दे रही है

और कई बच्चियों के जूते चप्पल सड़क पर बिखरे हुए है।

Newspoint24/संवाददाता  


बरेली।  यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की ओर से महिला मैराथन  के जरिए यूपी के महिला वर्ग को साधने का प्रयास किया गया। बीते दिनों कई जिलों में हुई मैराथन दौड़ के बीच बरेली जिले में हुई मैराथन से जुड़ा एक बड़ा मामला सामने आया।  जहां कांग्रेस पार्टी अपना नारा ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ को बढ़ावा देने के चक्कर में लड़कियों की जान खतरे में डाल दी है।

दरअसल, बरेली में कांग्रेस ने मैराथन दौड़ का आयोजन किया। लेकिन इस दौरान भगदड़ मच गई। इतना ही नहीं कई लड़कियां दबकर घायल भी हो गई। वीडियो में देखा जा सकता है कि मैराथन के दौरान लड़कियों की चीख पुकार सुनाई दे रही है और कई बच्चियों के जूते चप्पल सड़क पर बिखरे हुए है।

उधर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन ने इस हादसे को लेकर बेतुका बयान दे डाला है। सुप्रिया ऐरन ने कहा, ”जब वैष्णो देवी में भगदड़ मच सकती है ये तो बच्चियां है, ये इंसानी फितरत होती है, लेकिन मैं मीडियाकर्मियों से माफी मांगती हूं, ये साजिश भी हो सकती है, कांग्रेस के बढ़ते जनाधार की वजह से इस तरह की साजिश हो सकती है।”

कांग्रेस की महिला नेता के बिगड़े बोल
कांग्रेस की मैराथन रैली को लेकर सुरक्षा व्यवस्था में हुई चूक के सवाल पर कांग्रेसी नेता मीडिया कर्मियों से ही उलझ गए। धक्का मुक्की करने लगे। कांग्रेस नेत्री पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन ने कहा कि वैष्णो देवी में भगदड़ मच सकती है, तो ये तो बच्चियों की भीड़ है। ये इंसानी फितरत होती है, लेकिन मैं मीडिया कर्मियों से धक्का-मुक्की के लिए माफी मांगती हूं। उन्होंने कहा कि यह तो साजिश भी हो सकती है। कांग्रेस के बढ़ते जनाधार की वजह से इस तरह की साजिश हो सकती है।

वहीं, मामले की जानकारी होते ही कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और पड़ताल शुरू कर दी है। मैराथन कार्यक्रम में शामिल होने आई ऑल इंडिया महिला कांग्रेस की नेशनल कोआर्डिनेटर और यूपी वेस्ट प्रभारी संगीता गर्ग सफाई देते नजर आईं। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम सफल रहा और करीब 10 हजार बच्चियों ने प्रतिभाग किया।

यह भी पढ़ें : 

यूपी में भी कोरोना को लेकर योगी सरकार अलर्ट : अब नाईट कर्फ्यू रात 10 से सुबह 06 बजे तक , शादी समारोह में 100 लोगों को ही परमिशन

Share this story