वाराणसी में प्रशासन अलर्ट कोरोना की नई गाइडलाइन लागू : 10वीं तक के बच्चे और 60 साल से ऊपर के लोग अब घर से बाहर प्रतिबंधित , जानें और क्या है रोकटोक 

Administration Alert Corona's new guideline implemented in Varanasi: Children up to 10th and people above 60 years are now banned outside the house, know what is the restriction

जिला अधिकारी कौशल राज शर्मा द्वारा जारी इस नई गाइडलाइन के अनुसार रात 10 बजे से सुबह 6 बजे

तक बाहर निकलने पर कार्रवाई होगी। वहीं बताए नियमों का उल्लंघन करने पर महामारी एक्ट के तहत

कार्रवाई की जाएगी। जिले के सभी स्पा, जिम, वाटर पार्क, पर्यटन स्थल, आर्कियोलॉजिकल स्थल, म्यूजियम, स्वीमिंग पुल पूरी तरह से बंद कर दिए गए हैं।

Newspoint24 / संवाददाता  

वाराणसी। वाराणसी में कोरोना की नई गाइडलाइन लागू हो गई है आदेश 20 जनवरी तक के लिए लागू किया गया है। 10वीं तक के बच्चे और 60 साल से ऊपर के लोग अब घर से बाहर नहीं जा सकते। यदि इन्हें कोई स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या है या फिर पहले कोरोना से संक्रमित हो चुके हो तो उनका निकलना प्रतिबंधित कर दिया गया है। जिला अधिकारी कौशल राज शर्मा द्वारा जारी इस नई गाइडलाइन के अनुसार रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक बाहर निकलने पर कार्रवाई होगी। वहीं बताए नियमों का उल्लंघन करने पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। जिले के सभी स्पा, जिम, वाटर पार्क, पर्यटन स्थल, आर्कियोलॉजिकल स्थल, म्यूजियम, स्वीमिंग पुल पूरी तरह से बंद कर दिए गए हैं।

कौशलराज शर्मा ने बताया कि वाराणसी में रोजाना 300 से अधिक मामले आ रहे हैं। संक्रमित कुल व्यक्तियों की संख्या 1000 से ऊपर हो गयी है। इस संबंध में समीक्षा करके यह निर्धारित किया गया कि संक्रमण की रोकथाम के लिए शासन से प्राप्त दिशा-निर्देशों को तत्काल जनपद में लागू कराया जाए।

ये रहे प्रमुख प्रतिबंध

समस्त धार्मिक स्थलों के व्यवस्थापक और प्रबंधक पीक आवर्स में श्रद्धालुओं की संख्या कंट्रोल करने के लिए सुविधाजनक समयसारिणी जारी करें। इससे एक ही समय में ज्यादा श्रद्धालु धार्मिक स्थल परिसर में न आ सके। वहीं सभी दुकानदार, दुकान के कर्मचारी तथा ग्राहक मास्क पहन के रहें, नहीं तो कार्रवाई की जाएगी।

10वीं तक के सभी स्कूल 16 जनवरी तक बंद कर दिए गए हैं। इसमें UP बोर्ड, CBSE बोर्ड और ICSE बोर्ड के सभी स्कूल शामिल हैं। इन विद्यालयों में ऑनलाइन क्लास चलाने की छूट है।

शाम 4 बजे के बाद घाट पर नहीं बैठ सकेंगे

दशाश्वमेध घाट  पर तैनात पुलिस

(दशाश्वमेध घाट पर तैनात पुलिस) 

शाम 4 बजे के बाद घाट पर नहीं बैठ सकेंगे। मगर, प्रशासन ने पर्यटन की दृष्टि से नाव यात्रा करने वालों को छूट दे दी है। मगर इनका घाट पर रूकना या बैठना प्रतिबंधित होगा। गंगापार रेत पर जाना प्रतिबंधित कर दिया गया है।

मनोरंजन के सभी मीडियम पूरी तरह से बंद रहेंगे 
सिनेमा हॉल, रेस्टोरेंट, होटल और फूड ज्वाइंट्स में किसी भी दशा में 50 प्रतिशत क्षमता से ज्यादा लोग नहीं रहेंगे।

रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड लोगों के बैठने के स्थान पर एक कुर्सी छोड़कर एक कुर्सी लगाया जाएगा।

सभी प्रकार की रैली, पदयात्रा और 5 से अधिक लोग को एक साथ रहने की मनाही है। इसका पालन सभी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सुनिश्चित कराया जाए।

केंद्र सरकार और राज्य सरकार के सभी कार्यालयों, बैंक, बीमा कार्यालय आदि में केवल उन्हीं व्यक्तियों काे जाने की अनुमति मिलेगी, जिन्हें बहुत जरूरी काम होगा।
विधान सभा चुनाव-2022 आचार संहिता लागू होने के बाद तहसील दिवस और थाना दिवस की व्यवस्था स्थगित हो गई है।

सभी स्पा, जिम, वाटर पार्क, पर्यटन स्थल, आर्कियोलॉजिकल स्थल, म्यूजियम, स्वीमिंग पुल को बंद कर दिया गया है।

जिले के सभी तहसील और थानों पर जनता की शिकायतों के निस्तारण के लिए शिकायत पेटिका रखी जाएगी।

शिकायत पेटिका को रोज शाम को खोलकर जनता द्वारा भेजे गये शिकायती प्रार्थना पत्रों को निकाला जाएगा। इन शिकायतों का ससमय समाधान सुनिश्चित कराया जाएगा।

बिना मास्क के मिले तो- रूकेगा वेतन, बंद होगी दुकान और लगेगा जुर्माना

बिना मास्क पहने ग्राहकों को किसी भी दशा में कोई सामग्री न बेची जाए। ,
कोविड हेल्प डेस्क स्थापित कर स्क्रीनिंग की व्यवस्था और मास्क का उपयोग सुनिश्चित कराया जाए। थाना स्तर से इन सभी स्थानों की आकस्मिक चेकिंग कराई जाएगी।

दुकानों, रेस्टोरेंट, होटल के द्वार पर पल्स ऑक्सीमीटर, इंफ्रारेड थर्मामीटर और सैनिटाइजर के साथ कोविड हेल्प डेस्क बनाया जाए। मास्क नही तो सामान नहीं का पालन करें।

ऑटो रिक्सा, ई-रिक्शा में 4 सवारियों से ज्यादा लोडिंग की और ड्राइवर मास्क न लगाए ताे थाना और यातायात पुलिस कार्रवाई करे।

जिले के सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान और मार्केट कमेटी यह सुनिश्चित कराए कि उनके सभी दुकानदार, कर्मचारी और ग्राहक मास्क पहन कर खरीदारी कर रहे हैं।
आदेश जारी होने के 1 सप्ताह तक लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। इसका पालन कड़ाई से किया जाएगा। बिना मास्क के मिले लोगों से जुर्माना वसूला जाएगा।

जिले के जिस भी मार्केट, मॉल या दुकान में मास्क का पालन नहीं हुआ तो कुछ दिन के उनका प्रतिष्ठान बंद करा दिया जाएगा।

जिले में सभी प्रकार के रेगुलर, कांट्रेक्चुअल, एड-हॉक और सरकारी कर्मचारियों का मास्क पहनना जरूरी होगा। न पहना तो उनके विरूद्ध अनुशासनिक कार्यवाही की जाएगी। साथ ही एक से अधिक बार गलती करने की दशा में उनका उस दिन का वेतन रोक दिया जाएगा।

 कोविड का लक्षण मिलने पर दें सूचना
जिले के होटल एवं लॉज प्रबंधकों को निर्देश दिया गया है कि वह कोविड हेल्प डेस्क स्थापित करेंगे। उनके होटल व लॉज में ठहरे किसी भी अतिथि में कोविड के लक्षण हैं तो इसकी सूचना निकट के अस्पताल अथवा काशी इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर में संचालित लैंड लाइन नंबर (0542-2221937, 0542-2221941, 0542-2221942, 0542-2221944, 0542-2720005) तथा हेल्प लाइन नंबर-1077 पर तत्काल सूचना दें। 

यह भी पढ़ें : 

वाराणसी में ओमिक्रोन ने बढ़ाई पैठ, 375 नये संक्रमित मिले, कोरोना से संक्रमित होने वालों में 80 फीसद मरीजों में ओमिक्रॉन वैरिएंट

Share this story