वर्चुअल मंच पर मोदी और ममता  : अपनी हनक दिखाने का मौका नहीं चूकीं ममता , अपने मोबाइल को चलाने में ही लगी रहीं

Modi and Mamta on the virtual stage: Mamta did not miss the opportunity to show her talent, kept on running her mobile

ममता यहां भी अपनी हनक दिखाने का मौका नहीं चूकीं। जिस कैंपस का प्रधानमंत्री ने उद्घाटन किया,

उसे लेकर ममता ने वर्चुअल मंच पर ही प्रधानमंत्री से कहा- जिस अस्पताल में आप रुचि ले रहे हैं, उसका

हम काफी पहले उद्घाटन कर चुके हैं। इतना ही नहीं, जब प्रधानमंत्री मोदी प्रोग्राम के दौरान भाषण दे रहे थे,

तब भी ममता ने उनकी अनदेखी की और अपने मोबाइल को चलाने में ही लगी रहीं।

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कोलकाता में चितरंजन कैंसर अस्पताल के एक कैंपस का वर्चुअल उद्धाटन किया। इस प्रोग्राम में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मौजूद थीं यानी वर्चुअल मंच पर मोदी और ममता दोनों ही मौजूद थे।

ममता यहां भी अपनी हनक दिखाने का मौका नहीं चूकीं। जिस कैंपस का प्रधानमंत्री ने उद्घाटन किया, उसे लेकर ममता ने वर्चुअल मंच पर ही प्रधानमंत्री से कहा- जिस अस्पताल में आप रुचि ले रहे हैं, उसका हम काफी पहले उद्घाटन कर चुके हैं। इतना ही नहीं, जब प्रधानमंत्री मोदी प्रोग्राम के दौरान भाषण दे रहे थे, तब भी ममता ने उनकी अनदेखी की और अपने मोबाइल को चलाने में ही लगी रहीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली से वर्चुअल मोड में कोलकाता में कैंसर अस्पताल के कैंपस का उद्घाटन किया।
 
चुपचाप दीदी को सुनते रहे मोदी
ममता ने कहा, 'स्वास्थ्य मंत्री ने मुझे दो बार कॉल किया। इसलिए मैंने सोचा कि कोलकाता के जिस प्रोग्राम में प्रधानमंत्री रुचि ले रहे हैं, उसके बारे में उन्हें जानकारी देना ही चाहिए। इस कैंपस का उद्घाटन हम पहले ही कर चुके हैं। मैं आपको यह भी बता देती हूं कि इस कैंपस का उद्घाटन हमने कैसे किया।

उन्होंने आगे कहा, जब कोरोना शुरू हुआ तो हमें कोविड केयर सेंटर की जरूरत थी। एक दिन मैं इस कैंपस में आई और देखा कि यह राज्य सरकार से जुड़ा हुआ है। इसलिए हमने इसका उद्घाटन कर दिया।' जिस दौरान ममता प्रधानमंत्री को कैंपस के बारे में जानकारी दे रही थीं, उस दौरान मोदी उनकी बात चुपचाप सुन रहे थे और सिर हिला रहे थे।

प्रोग्राम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वर्चुअल मंच पर ही अपनी बात कहती दिखीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी।
 
पीएम से कहा- हमने भी की है कैंपस निर्माण में फंडिंग
ममता ने पीएम से यह भी कहा कि प्रधानमंत्री यह जानकर खुश होंगे कि इस कैंपस के निर्माण में राज्य सरकार ने भी 25% फंडिंग दी है। साथ ही इसके निर्माण के लिए 11 एकड़ जमीन भी दी है। यह सब सिर्फ इसलिए किया गया है, क्योंकि केंद्र और राज्य सरकार को जनता के भले के लिए साथ मिलकर काम करना चाहिए।

मोदी की स्पीच के दौरान फोन चलाने के वीडियो आए सामने
इस वर्चुअल प्रोग्राम के वीडियोज सोशल मीडिया पर भी सामने आए हैं। इनमें कैंसर इंस्टिट्यूट की इमारत का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री भाषण देते दिखाई दे रहे हैं और ममता बनर्जी उन्हें सुनने के बजाए अपने मोबाइल पर सर्फिंग करती हुई दिख रही हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोग्राम के दौरान वर्चुअल मंच पर मौजूद सभी लोगों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अस्पताल कैंपस के बारे में भी बात की।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोग्राम के दौरान वर्चुअल मंच पर मौजूद सभी लोगों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अस्पताल कैंपस के बारे में भी बात की।


शुभेंदु अधिकारी को बुलाए जाने से नाराज हुईं ममता
प्रधानमंत्री ऑफिस ने इस प्रोग्राम में पश्चिम बंगाल में भाजपा संसदीय दल के नेता शुभेंदु अधिकारी को भी बुलाया, जिन्होंने विधानसभा चुनावों में नंदीग्राम सीट पर ममता बनर्जी को हराया था। ममता इससे बेहद नाराज थी और इसे 'ब्रीच ऑफ प्रोटोकॉल' बताते हुए शुभेंदु को बुलाए जाने पर ऐतराज जताया है।

पिछली बार ममता ने बीच में ही छोड़ दिया था पीएम का प्रोग्राम
इससे पहले आखिरी बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच शेयर करने पर ममता बनर्जी ने बीच में ही प्रोग्राम छोड़ दिया था। उस समय वे अपना भाषण शुरू करने पर भाजपा समर्थकों की तरफ से 'जय श्रीराम' के नारे लगाना शुरू कर देने से नाराज हो गई थीं।

यह भी पढ़ें : 

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के टारगेट पर महाराष्ट्र के नागपुर में RSS मुख्यालय समेत कई अहम ठिकाने

Share this story