अयोध्या: राजस्व कर्मियों की मिलीभगत से नवीन परती भूमि पर अवैध निर्माण, DM ने दिया निर्देश

अयोध्या: राजस्व कर्मियों की मिलीभगत से नवीन परती भूमि पर अवैध निर्माण, DM ने दिया निर्देश

Newspoint24/newsdesk/एजेंसी इनपुट के साथ

अयोध्या। तहसील क्षेत्र के राजस्व गांव शिवरामपुर (शहाबुद्दीनपुर) के अभिलेखों में नवीन परती के खाते में दर्ज भूमि पर राजस्व कर्मियों की मिलीभगत से अवैध निर्माण किए जाने का मामला प्रकाश में आया है।

ग्राम प्रधान की शिकायतें भी काम न आईं। अब जब शिकायत जिलाधिकारी के पास पहुंची तो उन्होंने एसडीएम बीकापुर को सरकारी भूमि पर कब्जा न किये जाने के आदेश दिए हैं।

शिवरामपुर के राजस्व अभिलेखों में गाटा संख्या 49 क्षेत्रफल 0.064 हेक्टेयर नवीन खाते की सुरक्षित भूमि है। ग्राम प्रधान ग्राम पंचायत शिवरामपुर सुषमा सिंह का आरोप है कि उक्त नवीन परती के खाते की भूमि पर गांव के ही राम प्रसाद मिश्र पुत्र जमुना प्रसाद मिश्र द्वारा दबंगई के बल पर अवैध निर्माण किया जा रहा है।

ग्राम प्रधान का कहना है कि उनके द्वारा शिकायत किए जाने के बाद अवैध निर्माण कार्य को रुकवा दिया गया था ब दो बार क्षेत्रीय लेखपाल के द्वारा पैमाइश करने के बाद अवैध निर्माण नवीन परती के खाते की भूमि में होता पाया भी गया, लेकिन अवैध कब्जेदार के प्रभाव में आकर क्षेत्रीय लेखपाल व राजस्व निरीक्षक राजेंद्र प्रसाद सिंह ने गलत पैमाइश करते हुए मनगढ़ंत रिपोर्ट तैयार कर तहसीलदार बीकापुर को प्रेषित कर दी, जिसके आधार पर फिर से उक्त बंजर भूमि पर अवैध निर्माण शुरू हो गया है। राजस्व कर्मियों की लापरवाही के चलते ग्राम सभा की अपूरणीय क्षति हो रही है।

ग्राम प्रधान ने जिलाधिकारी को दिए गए शिकायती पत्र में मांग की है कि नवीन प्रति गाटा संख्या 49 व परिक्रमा मार्ग गाटा संख्या 58 की पैमाइश तहसील में कार्यरत किसी अन्य एवं राजस्व निरीक्षक की टीम गठित करते हुए कराई जाए।

यह भी पढ़ें : आगरा: एक ही बारिश से सरकारी स्कूल बना स्विमिंग पूल, ग्रामीणों ने कहा- विकास कार्यों की खुली पोल

Share this story