फंटियर मार्केट्स के साथ समझाैता से ग्रामीण महिला उद्यमियों की बढ़ेगी आय : मोती सिंह

फंटियर मार्केट्स के साथ समझाैता से ग्रामीण महिला उद्यमियों की बढ़ेगी आय : मोती सिंह
 

Newspoint24/ संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ 

लखनऊ । प्रदेश के ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह 'मोती सिंह' की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (यूपीएसआरएलएम) तथा उप्र पावर कारपोरेशन लिमिटेड के मध्य एक समझौता (एमओयू) किया गया।

साथ ही पेमेंट गेटवे हेतु एक एमओयू यूपीएसआरएलएम तथा आईसीआईसीआई बैंक के साथ किया गया। इसके अलावा ग्रामीण महिलाओं को आजीविका और आय उपार्जन में सहयोग देने के लिए राजस्थान के सोशल कॉमर्स स्टार्ट अप फ्रंटियर मार्केट्स के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) हस्ताक्षरित किया गया।

इस मौके पर ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह 'मोती सिंह' ने कहा कि फ्रंटियर मार्केट्स के साथ यूपीएसआरएलएम की साझेदारी से ग्रामीण महिला उद्यमियों को सहेली के रूप में आय अर्जित करने और गरीबी दूर करने में मदद करेगी।

ग्रामीण महिलाओं को सम्मानजनक आजीविका और रोजगार के अवसरों के साथ सशक्त बनाने के लिए प्रतिबद्ध इस पहल से उत्तर प्रदेश में ग्रामीण समुदायों का समग्र विकास होगा।

ग्राम्य विकास मंत्री ने कहा कि यह साझेदारी महिला उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए तकनीकी और कार्यान्वयन सहायता के साथ संस्थान और क्षमता निर्माण पर ध्यान केंद्रित करेगी। बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन के माध्यम से वित्तीय स्वतंत्रता में तेजी लाएगी और ग्रामीण उत्पादों और सेवाओं की डोर-स्टेप डिलीवरी की सुविधा प्रदान करेगी।

श्री सिंह ने कहा,‘फ्रंटियर मार्केट्स के साथ आज हुआ यह समझौता राज्य के लिए मील का पत्थर साबित होगा। इससे राज्य की ग्रामीण महिलाओं को रोजगार में मदद मिलेगी, जिससे उनके आर्थिक विकास में बढ़ावा मिलेगा। इससे राज्य की आय में और वृद्धि होगी तथा वंचितों के लिए रोजगार के अधिक अवसर पैदा होंगे।’

अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने कहा कि इस साझेदारी का उद्देश्य 2,000 ग्रामीण महिलाओं को फ्रंटियर मार्केट्स सहेलियों के रूप में स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) के साथ जोड़ना है और उन्हें फ्रंटियर मार्केट्स ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म 'मेरी सहेली' के माध्यम से प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने के लिए प्रशिक्षित करना और प्रतिवर्ष 50 से 60 हजार की आय अर्जित करने में मदद करना है।

यूपीएसआरएलएम के प्रबंध निदेशक, भानु गोस्वामी ने कहा, ‘राज्य के निरंतर विकास के लिए हम महिला सशक्तिकरण के माध्यम से गरीबी घटाने और गुणवत्तापूर्ण जीवन की चुनौती को दूर कर रहे हैं। फ्रंटियर मार्केट्स के साथ यह साझेदारी उत्तर प्रदेश के समग्र विकास के लिए स्थायी वित्तीय स्वतंत्रता और समावेशन को सुनिश्चित करेगी।’

साझेदारी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए फ्रंटियर मार्केट्स की संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजैता शाह ने कहा, ‘हम 10 लाख सहेलियों को जोड़ने के मिशन पर हैं और यह साझेदारी देश में महिला उद्यमिता और आर्थिक विकास को मजबूत करने के लिए हमारी प्रतिबद्धता और सामूहिक प्रयासों को दर्शाती है।

ग्रामीण महिलाएं परिवर्तन और विकास को बढ़ावा देने वाले समुदाय की विश्वसनीय प्रेरक हैं और इस विस्तार के माध्यम से हम अपने जेंडर केंद्रित दृष्टिकोण के साथ आजीविका बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।’

यह भी पढ़ें : 

गरीबों को शीघ्र मिले प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ : मुख्य सचिव

उल्लेखनीय है कि फ्रंटियर मार्केट्स, एक बहु-एसडीजी प्लेटफॉर्म है, जो प्रौद्योगिकी और महिला उद्यमियों के माध्यम से ग्रामीण ग्राहकों को समाधान से जोड़ता है।

यह सरल जीवन सहेलियां नाम से 10 हजार से अधिक महिला उद्यमियों का मजबूत नेटवर्क, समुदाय के भरोसेमंद प्रेरक के तौर पर अपनी सामाजिक पूंजी और मजबूत नेटवर्क का लाभ उठाते हुए अपने पड़ोसियों को ‘मेरी सहेली’ ऐप के माध्यम से ऑनलाइन-ऑफलाइन स्टोर का अनुभव प्राप्त करने के लिए आमंत्रित करती है।

Share this story