मसाला कारोबारी की पत्नी का फांसी पर लटका मिला शव, युवतियों से करीबियों का आरोप

मसाला कारोबारी की पत्नी का फांसी पर लटका मिला शव, युवतियों से करीबियों का आरोप

Newspoint24/ संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ 

कानपुर। नजीराबाद थाना क्षेत्र में मसाला कारोबारी की पत्नी का आवास में संदिग्ध हालत में फांसी के फंदे से लटका शव मिला है। घटना के बाद से ससुराल वाले सात कुत्ते छोड़ कर फरार हो गए हैं।

घटना की जानकारी पर पहुंची पुलिस ने फॉरेंसिक के साथ साक्ष्य जुटाए और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मायके पक्ष ने दहेज हत्या का आरोप लगाया है।

नजीराबाद के अशोक नगर में रहने वाले सूर्यांश खरबंदा सब्जी मसाला उत्पाद के डिस्ट्रीब्यूटर है। इनकी शादी तीन साल पूर्व 09 फरवरी 2019 को काकादेव निवासी प्लास्टिक के जरीकैन फैक्ट्री संचालक पवन ग्रोवर ने बेटी आंचल से हुई थी।

दम्पति का एक साल का बेटा है। शुक्रवार की अर्धरात्रि को आंचल का शव फांसी के फंदे पर लटका देख पति सूर्यांश ने नजीराबाद पुलिस को जानकारी दी।

घटना की सूचना पर पुलिस कारोबारी के घर पहुंची, जहां महिला का शव कमरे में पंखे के कुंडे से लटका था। इस बीच घर से सूर्यांश समेत सभी परिवारी सदस्य फरार थे।

पुलिस ने मायके वालों को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंचे मृतक महिला के पिता पवन ग्रोवर, भाई अक्षय ग्रोवर व रिश्तेदार अशोक नगर पहुंचे और शव देख बिलख पड़े।

भाई अक्षय ग्रोवर ने आरोप लगाया कि शादी के बाद से बहन को दहेज के लिए सूर्यांश अक्सर तंग करता था। साथ ही बहनोई के अन्य युवतियों से अवैध संबंध हैं।

इस वजह से वह बहन को प्रताड़ित करता था। बताया कि 12 नवम्बर को जेवर चुराकर सूर्यांश ले जा रहा था तभी बहन आंचल ने विरोध करते हुए पुलिस को सूचना दी, लेकिन रसूख के दबाव में पुलिस कर्मी वापस लौट गए। इसके बाद 13 नवम्बर को फिर सूर्यांश और आंचल के बीच जेवर को लेकर बहस हुई थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

भाई अक्षय कहना है कि पुलिस ने पूर्व में शिकायत करने पर कार्रवाई की होती तो बहन जिंदा होती। उन्होंने बहन की हत्या कर शव फंदे से लटकाए जाने का आरोप लगाया है। घटना को लेकर डीसीपी दक्षिण रवीना त्यागी ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम व फॉरेंसिक रिपोर्ट आने पर मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। 

Share this story