20 मिनट तक एलीवेटेड ट्रैक पर रुकी मेट्रो, बंद रहे यात्री

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

कानपुर। कानपुर मेट्रो पहले चरण के तहत आईआईटी से मोतीझील तक चल रही है। मेट्रो के संचालन को अभी दो सप्ताह ही हुए हैं कि दूसरी बार मेट्रो को रोकना पड़ा। इस बार अधिक वोल्टेज आना बताया गया और करीब 20 मिनट तक एलीवेटेड ट्रैक पर मेट्रो खड़ी रही। इस दौरान यात्री बंद रहे और उनमें डर सताने लगा।

पिछले कई दिन से हो रही बारिश की वजह से मेट्रो को मिल रहे करंट में लगातार उतार चढ़ाव आ रहा है। इसकी वजह से मेट्रो के संचालन में दिक्कतें आ रही हैं।

इस बीच शनिवार शाम बारिश के दौरान अचानक करंट बहुत अधिक बढ़ गया जिसकी वजह से आइआइटी से मोतीझील जा रही मेट्रो को एसपीएम स्टेशन के पास एलीवेटेड ट्रैक पर ही 20 मिनट के लिए रोका गया। करंट की आपूर्ति जब ठीक हो गई तो ट्रेन को फिर चलाया गया।

मेट्रो को ट्रांसमिशन लाइन से 33 केवी करंट मिलता है। यह एसी में होता है। प्राथमिकि कारिडोर में आइआइटी, एसपीएम, गुरुदेव, रावतपुर, मोतीझील स्टेशन पर ट्रैक्शन स्टेशन बने हुए हैं। ये ट्रैक्शन स्टेशन 33 केवी की लाइन को 750 वोल्ट डीसी में बदल कर ट्रेन को सप्लाई करते हैं।

इसके बाद ट्रेन के अंदर लगे सिस्टम इसे खुद ही 425 वोल्ट एसी में बदल देते हैं जिससे पूरी ट्रेन के उपकरण काम करते हैं। शनिवार को जिस तरह की घटना हुई वह दोबारा होगी या नहीं, इस बारे में कोई भी पूरी तरह से कह नहीं पा रहा है।

डीजीएम जनसम्पर्क पंचानन मिश्रा ने बताया कि बारिश की वजह से बिजली की जो खपत थी वह कम हो गई थी, इसकी वजह से मेट्रो के लिए बिठूर से आने वाली लाइन में करंट ज्यादा आ गया था। इसे देखते हुए तुरंत ट्रेन को रोक दिया गया था। करंट जैसे ही सामान्य स्थिति में आया ट्रेन को दोबारा चला दिया गया। इसमें मेट्रो की तरफ से कोई फाल्ट नहीं था।

Share this story