केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश के धर्म को अंधविश्वास कहने के बयान पर माफी मांगने की मांग भी की बोले अयोध्या , मथुरा और काशी से उनको चिढ़ होती है

Keshav Prasad Maurya also demanded an apology for calling religion a superstition, saying that he gets irritated with Ayodhya, Mathura and Kashi.

नोएडा की चर्चा करते हुए धर्म को अंधविश्वास कहने के अखिलेश यादव के बयान की

आलोचना करते हुए उप मुख्यमंत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह करोडों

लोगों की आस्था का अपमान है और उन्हें तुरंत अपने बयान पर माफी मांगते हुए इसे वापस लेना चाहिए।

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

 नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर राजनीतिक निशाना साधते हुए कहा है कि अखिलेश यादव को अयोध्या , मथुरा और काशी से चिढ़ होती है। उन्होंने अखिलेश यादव से धर्म को अंधविश्वास कहने के बयान पर माफी मांगने की मांग भी की है।

उम्मीदवारों के चयन के लिए हो रही महत्वपूर्ण बैठक में शामिल होने के लिए भाजपा राष्ट्रीय मुख्यालय पहुंचे केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश यादव के बयान की आलोचना करते हुए कहा, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बयान पर मैं कहूं तो राधे-राधे से उनको चिढ़ होती है, भगवान बांके बिहारी जी से उनको चिढ़ होती है। अयोध्या , मथुरा और काशी से उनको चिढ़ होती है।

नोएडा की चर्चा करते हुए धर्म को अंधविश्वास कहने के अखिलेश यादव के बयान की आलोचना करते हुए उप मुख्यमंत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह करोडों लोगों की आस्था का अपमान है और उन्हें तुरंत अपने बयान पर माफी मांगते हुए इसे वापस लेना चाहिए।

इमरान मसूद के समाजवादी पार्टी में शामिल होने पर प्रतिक्रिया देते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि हम तो पहले से ही कह रहे हैं कि ये नई नहीं वही सपा है। प्रधानमंत्री मोदी के टुकड़े-टुकड़े करने के बयान देने वाले इमरान मसूद को सपा में शामिल करने पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि गुंडे, अपराधी माफिया और इस तरह के तमाम लोग सपा की शरण में जा रहे हैं।

उन्होंने दावा किया कि भाजपा जनता के आशीर्वाद और कार्यकतार्ओं के परिश्रम से विधान सभा चुनाव में 300 से ज्यादा सीटें जीतकर ऐसे लोगों को करारा जवाब देगी। इसके साथ ही उन्होंने चुनाव में सपा, बसपा और कांग्रेस का सूपड़ा साफ होने का दावा भी किया।

यह भी पढ़ें : 

37 साल बाद सीएम के रिपीट न होने का मिथक भी टूटेगा ,मैं तो आया ही हूं भ्रम तोड़ने : योगी

Share this story