भारी भरकम लेनदेन पर होगी आयकर की नजर

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

Newspoint24/संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ

लखनऊ । विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही इनकमटैक्स विभाग भी सक्रीय हो गया है। पूरे चुनाव के दौरान इनकमटैक्स विभाग ऐसे सभी बड़े लेनदेन पर नजर रखेगा। साथ ही नकदी लेकर चलने वालों को भी सजग रहना होगा।

प्रधान मुख्य आयकर आयुक्तल, पूर्वी उप्र शिशिर झा ने सोमवार यहां प्रत्यक्ष कर भवन में मीडिया प्रतिनिधियों से बात करते हुए कहा कि चुनाव के दौरान विभाग विशेष सतर्कता बरतेगा। दो लाख से अधिक की नकदी लेकर चलने वाले लोगों को साथ में दस्तावेज भी रखना होगा।

शिशिर झा ने बताया कि पूर्वी उप्र लखनऊ का बजट कलेक्शून टारगेट 14 हजार 713 करोड़ रुपये है। इसके सापेक्ष 11 हजार 545 करोड़ रुपये का कलेक्श्न किया गया। इसमें से 2187 करोड़ रुपये का आयकरदाताओं को रिफण्ड किया गया है। इस प्रकार से शुद्ध कलेक्शकन नौ हजार 358 करोड़ रुपये है।

पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में लखनऊ में बड़ा कलेक्शन हुआ है। उन्होंने बताया कि पिछले वित्तीय वर्ष में लखनऊ में 272 करोड़ रुपये का टैक्स कलेक्शन हुआ था। वहीं इस बार यह 941 करोड़ रुपये पहुंच गया है।

पूर्वी उत्तर के 54 जिलों में से दूसरा शहर बरेली में भी टैक्स में भारी इजाफा हुआ है। पिछले वित्तीय वर्ष में 361 करोड़ रुपये टैक्स कलेक्शन हुआ था। वहीं मौजूदा वित्तीय वर्ष में यह आंकड़ा 915 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। करदाताओं को जागरूक करने के लिए लोगों में अभियान चलाया गया। इस कारण यह टैक्स कलेक्शन बढ़ा है।

टैक्स में बढ़ोत्तरी विभाग द्वारा किये गए अन्वेषण के कारण भी बढ़ा है।

आयकर महानिदेशक (जांच), उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखण्ड मोहन कुमार सिंघानिया ने बताया कि चुनाव से संबंधित जानकारी शीघ्र ही प्रेस वार्ता कर दी जाएगी। यदि किसी को ज्यादा नकदी लेकर जाना आवश्यक है तो जरूरी दस्तावेज अपने साथ रखें।

इसलिए सभी को इस दौरान ध्यान रखना होगा। उन्होंने कहा कि दो लाख से अधिक नकदी लेनेदेन की अनुमति नहीं है। यही नियम चुनाव के दौरान भी लागू रहेगा। इसके अतिरिक्त नकदी लेकर चलने वालों को पूरा दस्तावेज लेकर चलना होगा।

Share this story