पहले चरण के विधानसभा सीटों के लिये प्रत्याशियों के नामों पर मंथन 10 जनवरी को

Brainstorming on the names of candidates for the assembly seats for the first phase of elections on January 10

सोमवार को होने वाली बैठक में संभावित उम्मीदवारों के जिन नामों को तय किया जाएगा,

उन्हें अंतिम मंजूरी के लिए भाजपा की केन्द्रीय इकाई के समक्ष भेज दिया जाएगा।

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 10 फरवरी को 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान होगा।

Newspoint24/संवाददाता  

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा के बाद सोमवार को भारतीय जनता पार्टी  ने प्रत्याशियों के चयन को लेकर अहम बैठक बुलाई है। सूत्रों के अनुसार इस बैठक में पहले चरण के चुनाव वाली विधानसभा सीटों के लिये प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम दौर की चर्चा के साथ ही चुनाव अभियान संबंधी अन्य अहम विषयों पर विचार विमर्श होगा।

सोमवार को होने वाली बैठक में संभावित उम्मीदवारों के जिन नामों को तय किया जाएगा, उन्हें अंतिम मंजूरी के लिए भाजपा की केन्द्रीय इकाई के समक्ष भेज दिया जाएगा। गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 10 फरवरी को 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान होगा। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य तथा डॉ. दिनेश शर्मा के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह और चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान एवं उप प्रभारी अनुराग ठाकुर सहित राजवीर सिंह, विनोद सोनकर, ब्रजेश पाठक, बेबी रानी मौर्या, अरुण सिंह, रमापति त्रिपाठी, वाई सत्य कुमार, सुनील ओज, संजीव चौरसिया भी शामिल होंगे।

सपा प्रमुख अखिलेश भी करेंगे कल बैठक

सूत्रों के अनुसार, समाजवादी पार्टी 10 जनवरी को एक अहम बैठक करने जा रही है। इस बैठक में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव , सपा प्रमुख अखिलेश यादव  के साथ शिवपाल सिंह यादव  और पार्टी के महासचिव रामगोपाल यादव भी शामिल होंगे। अभी तक चाचा शिवपाल के साथ अखिलेश ने मंच सांझा नहीं किया है। तो कयास लगाए जा रहे हैं कि सोमवार को होने वाली इस बैठक में आपसी सामंजस्य और सीटों के बंटवारे पर चर्चा हो सकती है।  बताया जा रहा है कि । लखनऊ में होने वाली मीटिंग को अखिलेश और शिवपाल की फोन पर बात हुई है। वहीं परिवार के कुछ और लोग भी बैठक में शामिल होंगे। 

यह भी पढ़ें : 

अनुराग ठाकुर का अखिलेश पर जोरदार सियासी हमला : अगर लैपटॉप चलाना आता है तो डिजिटल कैम्पेन से क्यों पीछे भाग रहे हैं?

Share this story