वृंदावन :  नए साल पर खुलेगा राधा दामोदर मंदिर परिक्रमा मार्ग

चार परिक्रमा से मिलता है सप्तकोसीय परिक्रमा का पुण्यलाभ 

Newspoint24.com/newsdesk/

मथुरा । एक लम्बे समय के बाद आंग्ल नववर्ष 2021 को वृंदावन के राधा दामोदर मंदिर की चार परिक्रमा खुलने जा रही है। इस परिक्रमा को करने से भक्तों को गोवर्धन की एक सप्तकोसीय परिक्रमा का पुण्य प्राप्त होता है। परिक्रमा खोलने जाने को लेकर मंदिर प्रबंधक ने बिना मास्क प्रवेश वर्जित रखा है तो वहीं सोशल डिस्टेंस का पालन अनिवार्य किया है। 

गुरुवार शाम मन्दिर के सेवायत आचार्य एवं श्रीराधा दामोदर मंदिर प्रबंध कमेटी ट्रस्ट के सचिव पूर्ण चन्द्र गोस्वामी ने कहा कि मंदिर में भगवान कृष्ण प्रदत्त गिरिराज चरण शिला विराजमान है। इसलिए मंदिर की 4 परिक्रमा, गिरिराज गोवर्धन की एक सप्त कोसी परिक्रमा के बराबर पुण्य फल प्रदायक हैं। 

भक्तों की मांग पर एक लंबे समय के बाद आंग्ल नववर्ष पर 01 जनवरी, 2021 से मंदिर की 4 परिक्रमा खुलने जा रही है। परिक्रमार्थियों के लिए मंदिर प्रशासन द्वारा कुछ नए इंतजाम किए गए है। जिससे भक्तों को कोरोना के चलते कोई असुविधा न हो और परिक्रमा सुगमता पूर्वक चलती रहे। परिक्रमा का समय सीमा प्रातः 8ः30 बजे से 11ः30 तक और सांय 4ः30 बजे से रात्रि 8 बजे तक रहेगा। बिना मास्क के मंदिर में प्रवेश निषेध है। सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंस) का पालन करना आगंतुक भक्तों के लिए अति आवश्यक हैं।
 

Share this story