वाराणसी : बेसहारा मायावती के पार्थिव शरीर का मोक्ष तीर्थ मणिकर्णिकाघाट पर विधि विधान से अन्तिम संस्कार

वाराणसी : बेसहारा मायावती के पार्थिव शरीर का मोक्ष तीर्थ मणिकर्णिकाघाट पर विधि विधान से अन्तिम संस्कार

newspoint 24 / newsdesk / एजेंसी इनपुट के साथ 

वाराणसी। सामाजिक कार्यकर्ता अमन कबीर ने सोमवार को एक बार फिर कूड़ा बीनने वाली किशोर वय मायावती के पार्थिव शरीर का मोक्ष तीर्थ मणिकर्णिकाघाट पर विधि विधान से अन्तिम संस्कार अपने मित्रों के साथ मिलकर कराई। इस मानवीय पहल की सोशल मीडिया में लोग जमकर सराहना कर रहे हैं।

कैंट स्टेशन और आसपास के इलाके में कूड़ा बीन कर अपने बहनों का पालन पोषण करने वाली किशोर वय मायावती काफी दिनों से बीमार थी। हालत बिगड़ने पर उसकी बहनें उसे लेकर कबीरचौरा अस्पताल आई। अस्पताल में किसी तरह भर्ती होने पर मायावती का इलाज शुरू तो उसने दम तोड़ दिया। मायावती के शव को अस्पताल के गेट के पास रख बहनें अन्तिम संस्कार के लिए रूपये न होने पर बिलखती रही।

सूचना पर लावारिश लाशों का अंतिम संस्कार करने वाले अमन कबीर अन्तिम क्रिया का सामान बांस, कफन, फूल और अगरबत्ती लेकर अस्पताल पहुंचे। किशोरी के शव को कफन बांधने के लिए टिकठी तैयार कराई। फिर दोनों बहनों केे साथ शव को अपने कंधे पर उठाया। बहनें शव लेकर आगे बढ़ी तो अमन के अन्य सहयोगी युवाओं ने भी शव को कंधा दिया। मणिकर्णिका घाट पर किशोरवय बच्ची का अन्तिम संस्कार भी अमन ने कराया।

Share this story