वाराणसी : सनातन संस्कृति की जीवन मूल्यों से युवाओं की दूरी लव जेहाद का कारण-अशोक तिवारी

भारतीय समाज को संरक्षित और एकीकृत करने की जरूरत

Newspoint24.com/newsdesk/

वाराणसी । विश्व हिंदू परिषद् के केंद्रीय मंत्री अशोक तिवारी ने कहा कि लव जेहाद के बढ़ते कारणों की वजह है सनातन संस्कृति की जीवन मूल्यों से युवाओं का दूरी। साथ ही साथ इस्लामिक संगठनों द्वारा साजिश करके ऐसी घटनाओं को बढ़ावा भी दिया जा रहा है।

अशोक तिवारी शनिवार को दुर्गाकुंड स्थित हनुमान प्रसाद पोद्दार अंध विद्यालय में आयोजित अखिल भारतीय संत समिति के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में आये संतों के बीच उन्होंने  भारत में उत्पन्न प्रमुख चुनौतियों को बता भारतीय समाज को संरक्षित और एकीकृत करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि संतों के सम्मेलनों के जरिये जनजागरण कर भारतीय समाज को भारतीय संस्कृति से जोड़ने की आवश्यकता है। 

संतों के बैठक में पहले दिन दो प्रस्ताव सर्व सम्मति से पारित
संतों की बैठक में पहले दिन दो प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पारित किया गया। इसमें पहले प्रस्ताव में कहा गया कि विश्व हिन्दू परिषद विश्व के प्रत्येक हिन्दू धर्मावलम्बी तथा रामभक्तों से सम्पर्क कर मंदिर निर्माण के लिए धनसंग्रह के पुनीत कार्य में लगे। देश के सभी संत भी इस पुण्य कार्य में स्वयं लगेंगे। दूसरे प्रस्ताव में मजहबी आतंकवादियों पर कठोर कार्रवाई करने तथा एक समग्र कानून बनाने के साथ हिन्दू समाज को सावधान रहने के लिए आग्रह किया गया। साथ ही पालघर महाराष्ट्र की घटना की जांच निष्पक्ष सीबीआई से कराने की मांग की गईं। संत समाज ने कुछ पीढ़ियों से मुसलमान, ईसाई बन गए हिन्दू लोगों से आग्रह किया कि अपने घर्म में वापस लौट आये। 

Share this story