यूपी: बदायूं प्रकरण पर यूथ कांग्रेस का मुख्यमंत्री पर 'जनाजा' को लेकर तंज

Newspoint24.com/newsdesk

लखनऊ। प्रदेश में आपराधिक वारदातों को लेकर यूथ कांग्रेस ने सरकार पर तंज कसते हुए टिप्पणी की है। इसकी भाषा को लेकर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इसे मानवता का अपमान बताया है। यूथ कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से गुरुवार को उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए एक वीडियो पोस्ट किया गया। इसमें बदायूं के सामूहिक दुष्कर्म कांड को लेकर योगी सरकार और उप्र पुलिस को कटघरे में खड़ा किया। वीडियो में कहा गया कि योगी सरकार वैसे तो महिला सुरक्षा को लेकर बड़े-बड़े दावे करती है। लेकिन, आए दिन मानवता को शर्मसार करने वाली ऐसी वारदातें सरकार के सारे दावों की पोल खोलती हैं। ऐसी घटनाओं से ना तो मुख्यमंत्री योगी और ना ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने कोई सबक लिया है। 

वीडियो में कहा गया कि योगी जी की पुलिस ने जिस तरह से हाथरस वाली घटना के दौरान अपनी आंखें मूंद रखी थी, ठीक वैसे ही इन्होंने बदायूं में भी किया। ऐसा लगता है कि मानो योगी पुलिस ने ठान लिया है कि चाहे जो हो जाए वह आरोपितों को बचाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। ऐसा प्रतीत होता है कि न्याय का पर्याय बनने की वजह अपराधियों का संरक्षण ही योगी सरकार का एकमात्र उद्देश्य और कर्तव्य बन गया है। 

यूथ कांग्रेस ने वीडियो में आरोप लगाया कि निर्दयी सरकार, निकम्मी पुलिस का दिल पसीजना तो दूर वह न्याय मांगती पीड़िता को ही गुनहगार साबित करने में लग जाती है। बदायूं प्रकरण को लेकर कहा गया कि राज्य में धर्म स्थल में अधर्म हो रहा है। धर्म स्थल में ही महिला की चीखें गुम हो जाती हैं। वीडियो में आरोप लगाया कि घटना की हकीकत जगजाहिर होने के बाद योगी सरकार और और अधिकारी डैमेज कंट्रोल मोड में आए और आनन-फानन में आरोपितों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। लेकिन, इस घटना ने उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की पोल एक बार फिर खोल दी है। राज्य में हर मां, बहन और बेटी खौफ के साये में जीन को मजबूर है। 

वीडियो के अन्त में तंज कसते हुए कहा गया है, 'योगी जी, कुर्सी है ये तुम्हारा जनाजा तो नहीं, कुछ कर नहीं सकते तो उतर क्यों नहीं जाते।' इस भाषा पर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार और प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री को लेकर कहा कि जिन्होंने पिता के निधन के बेहद कष्टकारी वक्त भी पिता को आखिरी बार देखने की बचाए उत्तर प्रदेश की जनता को कोविड से बचाने के लिए अपना दफ्तर चुना, ऐसे सच्चे संत के लिए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की कांग्रेस की भाषा देखिए। उन्होंने कहा कि ये मानवता का अपमान है, इसका परिणाम आपको चुकाना ही पड़ेगा।

Share this story