यूपी : कोरोना वैक्सीन की सुरक्षा में कोल्ड चेन सेंटर तक तैनात रहेंगे सुरक्षा कर्मी

Newspoint24.com/newsdesk

कानपुर/ बांदा। जनपद में इसी माह कोरोना वैक्सीन पहुंचने की उम्मीद है। प्रथम चरण में 6300 स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना के टीके लगेंगे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय परिसर में वैक्सीन भंडार कक्ष तैयार किया गया है। कोल्ड चेन में कोरोना वैक्सीन रखी जाएगी। वैक्सीन को सुरक्षित रखने व टीकाकरण सेंटर तक ले जाने के लिए सुरक्षा के लिहाज से पुलिस तैनात रहेगी। इसके लिए सीएमओ सभागार में पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया है।  

संक्रमण रोकने के लिए लगाई जाने वाली कोरोना वैक्सीन के रखरखाव, टीकाकरण आदि की तैयारियों को पूरा कर लिया गया है। पहले चरण में जिन सरकारी व निजी अस्पतालों में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाना है, उनका नाम व पद आदि की जानकारी साइट पर अपलोड भी कर दी गई है। प्रशिक्षक/जिला समन्यवक (यूनिसेफ) फुजैल अहमद ने बताया कि शासन की तरफ से पहले चरण के लिए टीका जल्द ही मिलने की उम्मीद है। इसे कोल्ड चेन में सुरक्षित रखने और वैक्सीनेशन  सेंटर तक सुरक्षित ले जाने के लिए पुलिस विभाग से सहायता ली जा रही है।  डब्ल्यूएचओ की एसएमओ डा. मीनाक्षी ने कहा कि पहले चरण में ही टीका लगवाने के लिए आम लोगों की भीड़ जमा होने की आशंका से स्थिति तनावपूर्ण होने की भी संभावना है। इसलिए सेंटर पर सुरक्षा कर्मी तैनात रहेंगे। पुलिस विभाग की तरफ से कोविड नोडल इंस्पेक्टर अरविंद कुमार त्रिवेदी ने कहा कि 10 पुलिस कर्मियों को मास्टर ट्रेनर बनाया गया है। अब यह कर्मी अपने संबंधित थानों में जाकर दूसरे पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षण देंगे। इस मौके पर डा. बीपी वर्मा सहित पुलिस कर्मी, आंगनबाड़ी व स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित रहे। 

सीसीटीवी कैमरों से होगी निगरानी 

कोल्ड चेन की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। कक्ष के अंदर जाने वालों पर नजर रखी जाएगी। कोरोना वैक्सीन को जिले से ब्लॉक स्तर की कोल्ड चेन में जीपीएस (ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम) लगे वाहनों से भेजा जाएगा। किसी किस्म के खतरे पर चालक के कोरोना वैक्सीन के वाहन को रास्ते में रोकने पर इसकी जानकारी जीपीएस से विभाग को तुरंत हो जाएगी। शासन की गाइड लाइन के अनुसार कोल्ड चेन पर पुलिस का पहरा रहेगा।
 

Share this story