यूपी : बसपा विधायक सुषमा पटेल के पति रणजी​त पटेल सपा में शामिल

विधायक सुषमा पटेल बोलीं, परिवार जहां वहां हम, फिलहाल किसी भी दल में शामिल होने से इनकार 

Newspoint24.com/newsdesk/

लखनऊ। प्रदेश में बीते वर्ष हुए विधानसभा उप चुनाव में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्‍मीदवार रहे रणजीत सिंह पटेल शनिवार को समाजवादी पार्टी (सपा) में शामिल हो गये। पटेल की पत्‍नी जौनपुर के मुंगराबादशाहपुर से बसपा की विधायक हैं। उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में बसपा सुप्रीमो मायावती निलम्बित कर चुकी हैं। 

समाजवादी पार्टी के मुताबिक राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में प्रतापगढ़ सदर विधानसभा के पूर्व बसपा उम्मीदवार रणजीत सिंह पटेल ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

रणजीत सिंह पटेल के पिता और माता दोनों मंडियाहूं जौनपुर से पूर्व विधायक रहे हैं जबकि पत्नी सुषमा पटेल जौनपुर मुंगराबादशाहपुर क्षेत्र से विधायक हैं। रणजीत सिंह पटेल पूर्व पीसीएस अधिकारी हैं और 2019 के उपचुनाव में बसपा उम्मीदवार थे। 

उधर रणजीत सिंह पटेल के सपा में शामिल होने के बाद उनकी पत्नी विधायक सुषमा पटेल ने कहा कि उन्होंने बसपा के टिकट पर चुनाव जीता था। बाद में पार्टी ने निलम्बित कर दिया है। उन्होंने कहा कि परिवार जहां रहेगा वहां हम हैं। हालांकि उन्‍होंने किसी भी दल में शामिल होने से इनकार कर दिया। सुषमा पटेल ने कहा कि उन्हें अभी किसी दल में नहीं जाना है और वह अपने क्षेत्र की जनता की सेवा कर रही हैं। 

उल्‍लेखनीय है कि राज्‍यसभा चुनाव के दौरान बसपा के कुछ विधायकों ने अधिकृत उम्‍मीदवार का प्रस्‍तावक बनने के बाद अगले दिन अपने हस्‍ताक्षर को फर्जी बताया था। इनमें तब अखिलेश यादव से मुलाकात करने वालों में सुषमा पटेल भी थीं। इसके बाद मायावती ने पार्टी के सात विधायकों को निलम्बित कर दिया था। 

सुषमा पटेल ने तब कहा था कि  किसी से मिलना-जुलना गुनाह नहीं है। उन्होंने सपा अध्यक्ष से औपचारिक मुलाकात की थी। इससे पहले भी विभिन्न दलों के लोग अलग-अलग दल के नेताओं से मिलते रहे हैं। सामाजिक जीवन में यह स्वाभाविक प्रक्रिया है। इसे गलत नहीं माना जाना चाहिए। बसपा अध्यक्ष ने जो भी कार्रवाई की है, वह स्वीकार्य है। 

Share this story