यूपी : बुंदेलखंड में जलसमस्या के समाधान के लिए इजरायली टीम ने किया दौरा

up news

newspoint24

झांसी। उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड विशेष रूप से झांसी के बबीना विकासखंड में जलसमस्या के समाधान के लिए हुए समझौते के तहत मंगलवार को पहुंची इजरायल के जल संस्थान की टीम ने अधिकारियों से मुलाकात कर विभिन्न जानकारियां मांगी। यहां जिलाधिकारी कैम्प कार्यालय में जिलाधिकारी आंद्रा वामसी ने इजराइल टीम के सदस्यों का भारतीय परंपरानुसार स्वागत किया और इसके बाद सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक ली। बैठक में इजराइल दल के सदस्यों ने सिंचाई विभाग, लघु सिंचाई, कृषि विभाग, उद्यान विभाग, जियोफिजिस्ट ग्राउण्ड वाटर डिपार्टमेंट से विभागीय कार्यो की जानकारी ली। उन्होने मिनी पायलट परियोजना की शुरुआत के लिये आवश्यक बुनियादी डेटा सूचीबद्ध करते हुए उपलब्ध कराये जाने का अनुरोध किया।

जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि एक माह की समय सीमा के साथ अपेक्षित आंकड़े एकत्रित करते हुये सभी विभाग उपलब्ध कराएं, उन्होंने कहा कि झांसी जिले का विगत 10 वर्षो का वर्षा डेटा भूजल विभाग द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा । सिंचाई विभाग पहुंज बांध और गढ़मऊ झील का जल विवरण, सिंचाई के लिये नहर के संचालन की जानकारी, पेयजल एवं सिंचाई के स्रोत की सम्पूर्ण जानकारी देते हुये डाटा उपलब्ध करायेगें। जियोफिजिस्ट ग्राउण्ड वाटर डिपार्टमेंट द्वारा विभागीय योजना के माध्यम से पीजोमीटर की स्थापना, कृषि विभाग फसल चक्र की तथा उद्यान विभाग बागवानी फसल पैटर्न की जानकारी उपलब्ध करायें।

उन्होने बताया कि विकास खण्ड बड़ागांव को मिनी पायलट परियोजना में स्वीकृत किया गया है। इजरायल जल संस्थान मंत्रालय के सदस्य डैन अल्लुफ और डॉ लियो ने मुख्य विकास अधिकारी शैलेष कुमार सहित विभिन्न विभागीय अधिकारियों संग क्षेत्र का भ्रमण किया व जानकारियां एकत्र की और अनुभव साझा किये।चौपाल में इजरायल दल के सदस्यों ने ग्राम की महिलाओं से बात की और जल संचय व जल संवर्धन के कार्यों के प्रति उन्हें प्रेरित किया। चौपाल का संचालन ग्राम प्रधान राघवेंद्र सिंह तोमर ने किया। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी शैलेष कुमार, अधीक्षण अभियंता सिंचाई अरविंद सचान, अधिशासी अभियंता सिंचाई उमेश कुमार, उप निदेशक कृषि के के सिंह, एई लघु सिंचाई मानवेंद्र सिंह,एई भूजल विभाग शशांक शेखर सिंह, जेई लघु सिंचाई महेश बधानी, बीएचओ लक्ष्मीकांत अवस्थी सहित अन्य विभागों के अधिकारी व बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

गौरतलब है कि बुन्देलखंड के विशेष रुप से विकास खंड बबीना में पानी के इंतजाम की परियोजना के लिये प्रदेश सरकार और इजराइल के जल संस्थान मंत्रालय के मध्य ‘‘प्लान आफ को-ऑपरेशन’’ (सहयोग योजना) पर 20 अगस्त 2019 को समझौते पर हस्ताक्षर हुए थे। योजना का मुख्य उददेश्य बुन्देलखंड में पानी के संकट से जूझ रहे क्षेत्र के लिये पेयजल सहित सिंचाई के लिए पानी की उपलब्धता करना है। इस समस्या से निजात दिलाने के लिये बुन्देलखंड में जल प्रबन्धन के क्षेत्र में दीर्घकालीन सुधार के लिये ‘‘प्लान आफ को-ऑपरेशन’’ के जरिए ‘‘इण्डिया-इजरायल बुन्देलखंड वाटर प्रोजेक्ट’’ (भारत-इजराइल बुन्देलखण्ड जल परियोजना) इजरायल द्वारा विकसित किया जा रहा है।

Share this story