यूपी :  8 अप्रैल से शिक्षक, वकील, बैंक, प्राइवेट कर्मचारी, व्यापारी, ड्राइवर को कोरोना टीका लगाया जाएगा

Newspoint24.com/newsdesk

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विभिन्न व्यवसाय के लोगों के लिए फोकस टीकाकरण अभियान 8 से 23 अप्रैल से शुरू होगा। इसमें शिक्षक, वकील, बैंक, प्राइवेट कर्मचारी, व्यापारी, ड्राइवर को टीका लगाया जाएगा। इन व्यवसाय से जुड़े 45 वर्ष से ऊपर के लोगों के लिए यह व्यवस्था की गई है। सभी जिलों को इसके निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 


अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि फोकस टेस्टिंग की तरह ही फोकस टीकाकरण अभियान शुरू किया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण का ग्राफ एक बार फिर बढ़ने पर सरकार ने यह विशेष अभियान शुरू करने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण अभियान को गति प्रदान करने के लिए लिए कुछ समूह बनाते हुए विशेष तिथियां निर्धारित की गई हैं। हालांकि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोग वर्तमान में कभी भी सुविधानुसार टीका लगवा सकते हैं लेकिन समूह के मुताबिक निर्धारित तिथि में उनके लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी। इस सम्बंध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश भेजे जा रहे हैं। 


अपर मुख्य सचिव ने बताया कि 8 और 9 अप्रैल को 45 वर्ष से अधिक उम्र के मीडियाकर्मी, विभिन्न प्रतिष्ठानों के संचालक, दुकानदार, व्यवसायी अपने नजदीकी केंद्र पर जाकर टीकाकरण करा सकते हैं। इसी तरह 10 अप्रैल को बैंक और इंश्योरेंस कम्पनी के अधिकारियो-कर्मचारियों को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाएगी। इसमें उनकी एसोसिएशन, यूनियन आदि से टीकाकरण कराने की अपील की जाएगी। 12, 13, 14 अप्रैल को स्कूल और कॉलेजों के 45 वर्ष से अधिक उम्र के शिक्षकों को विशेष मौका दिया जाएगा। 15 और 16 अप्रैल को ऑटो रिक्शा चालक, रिक्शा चालक, रेहड़ी पटरी दुकानदारों को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाएगी।

इसके बाद 17 और 19 अप्रैल को जितने भी सरकारी कार्यालय हैं, उनके ऐसे अधिकारियों-कर्मचारियों को खास मौका दिया जाएगा, जिन्होंने अभी तक अपना टीकाकरण नहीं कराया है। 20 और 21 अप्रैल को अधिवक्ताओं, न्यायपालिका के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए भी टीकाकरण की विशेष व्यवस्था रहेगी। 22 और 23 अप्रैल को निजी प्रतिष्ठान, निजी कार्यालयों के लोगों को टीकाकरण करवाने का विशेष मौका दिया जाएगा।

Share this story