यूपी : नशेबाज पति ने अपने हाथ की नस काट पत्नी पर के पेट में मारी चाकू

Newspoint24.com/newsdesk    

कानपुर । गोविंद नगर में नशेबाज पति ने अपनी पत्नी पर अचानक चाकू से हमला कर दिया। चाकू महिला के पेट में लगने से वह वहीं गिर गई। चीख-पुकार सुन मकान मालिक बचाने दौड़े तो चाकू से अपने हाथ की नस काट ली। मकान मालिक ने 112 नम्बर डायल कर घटना की जानकारी पुलिस को दी। जानकारी मिलते ही गोविंद नगर थाने का फोर्स मौके पर पहुंचा और दोनों को उपचार के लिए हैलट हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने पति की हालत खतरे से बाहर और महिला की हालत चिंताजनक बनी हैं।

गोविंद नगर थाना क्षेत्र के दबौली वेस्ट निवासी रतिपाल प्राइवेट कर्मी हैं। रतिपाल ने बताया कि बेटी गुड़िया ने करीब सात साल पहले गोविन्द नगर में रहने वाले मनोज से प्रेम विवाह किया था। बेटी दादानगर स्थित एक कंपनी में काम करती थीं। मनोज भी उसी कंपनी में मजदूरी करता था। दोनों के बीच प्रेम सम्बंध हो गए थे। दोनों ने परिजनों के मना करने के बावजूद शादी कर ली थीं। शादी के कुछ दिनों बाद ही मनोज शराब के नशे में बेटी के साथ मारपीट करता था। बेटी ने मारपीट की जानकारी कई बार फोन द्वारा परिजनों को बता चुकी थीं।

मंगलवार को मनोज सुबह से ही शराब पीने लगा था। जब बेटी ने शराब पीने से मना किया तो दोनों के बीच में झगड़ा होने लगा था। कुछ देर बाद बेटी घरों में काम करने के लिए चली गई। दोपहर को वह जब काम करके वापस घर आई तो अचानक मनोज ने पत्नी पर चाकू से हमला कर दिया। जिससे चाकू बेटी के पेट में लग गई। बच्चों और बेटी की चीखपुकार सुन मकान मालिक जयदेवी और उनके पति बचाने दौड़े तो नशेबाज ने चाकू से अपने भी हाथ की नस काट ली। जिसके बाद मकान मालिक ने 112 नम्बर डायल कर घटना की जानकारी पुलिस को दी। जानकारी मिलते ही गोविंद नगर थाने का फोर्स मौके पर पहुँचा और घायलों को उपचार के लिए हैलट हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने पति की हालत खतरे से बाहर और महिला की हालत चिंताजनक बनी हुई हैं।

गोविन्द नगर थाना प्रभारी अनुराग मिश्रा ने बताया कि पति शराब का लती हैं दोनों के बीच में अक्सर विवाद होता रहता हैं। सुबह भी दोनों के बीच विवाद हुआ था। जिसके बाद दोपहर को शराब के नशे में युवक ने चाकू से अपनी पत्नी पर हमला कर दिया और खुद भी चाकू से अपने हाथ की नस काट ली। दोनों को उपचार के लिए उपचार के लिए हैलट में भर्ती कराया गया। अभी कोई तहरीर नहीं मिली हैं। तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायेगी।

Share this story