यूपी : चंपत राय के भाई की ओर से दर्ज मुकदमे में पत्रकारों की गिरफ्तारी पर रोक

up news

newspoint24

प्रयागराज। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने राम जन्म भूमि ट्रस्ट से जुड़े चंपत राय के भाई की तरफ से बिजनौर के नगीना थाने में दो वरिष्ठ पत्रकारों के खिलाफ दर्ज मुकदमे में उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है। न्यायालय ने पत्रकार विनीत नारायण व रजनीश दुवा की गिरफ्तारी पर रोक लगाते हुए सरकार से जवाब मांगा है तथा पक्षकारों को नोटिस जारी किया है। पत्रकारों पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने ट्विटर व फेसबुक पर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश व मोहन भागवत का ध्यान आकर्षित कर एक पोस्ट डाली और उसमें एनआरआई महिला अल्का लाहोटी के गौशाला की जमीन कब्जा करने का चंपत राय के भाई पर गलत आरोप लगाकर उनकी छवि धूमिल की है।

यह पोस्ट 17 जून को डाली गई और उसके तत्काल बाद चंपत राय के भाई संजय बंसल ने 19 जून को प्राथमिकी दर्ज कराई थी। कहा गया है कि इस पोस्ट को डालकर धार्मिक उन्माद फैलाया गया व मानहानि की गई। न्यायमूर्ति एस पी केसरवानी व पीयूष अग्रवाल की खंडपीठ ने पत्रकारों की याचिका पर वरिष्ठ अधिवक्ता रमेश उपाध्याय व शिवम यादव को सुनकर याचिकाकर्ता पत्रकारों की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है तथा याचिका पर सुनवाई के लिए 27 जुलाई तिथि नियत की है। अधिवक्ताओं का कहना था कि पत्रकारों को परेशान करने की नियत से यह मुकदमा दर्ज कराया गया है।
सं दिनेश त्यागी

Share this story