यूपी: पूर्व मंत्री अजय राय का शस्त्र लाइसेंस निरस्त होने से कार्यकर्ता नाराज

Newspoint24.com/newsdesk

 वाराणसी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री अजय राय का शस्त्र लाइसेंस निरस्त होने से पार्टी कार्यकर्ताओं में नाराजगी है। इसको लेकर गुरूवार को पार्टी का एक प्रतिनिधि मंडल जिलाध्यक्ष राजेश्वर सिंह पटेल और महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे के नेतृत्व में पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय पहुंचा। जहां कार्यकर्ताओं ने आईजी जोन के प्रतिनिधि अफसर से मिलकर नाराजगी जताई और अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा।  बताते चले, पूर्व मंत्री अजय राय के शस्त्र लाइसेंस को पिछले दिनों जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने निरस्त कर दिया। अजय राय 26 मुकदमों के आरोपी हैं और लाइसेंस जारी होने के बाद उन्होंने शस्त्र नहीं खरीदा था। इसी को आधार मानते हुए यह कार्रवाई की गई है। असलहा के लाइसेंस धारकों की समीक्षा प्रशासन की ओर से की जा रही है और मुकदमों के आरोपियों को नोटिस जारी किया गया है। 

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की ओर से पूर्व विधायक अजय राय को नोटिस दिया गया था। इस मामले में कांग्रेस ने कहा कि पूर्व विधायक के साथ पूर्वाग्रह और बदले की भावना से कार्यवाही कर उनका शस्त्र लाइसेंस निरस्त किया गया है। कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल में फसाहत हुसैन, बाबू, रामाश्रय पटेल, मनीष चौबे, मयंक चौबे, विश्वनाथ कुँवर, किशन यादव, कुँवर यादव, अश्विनी आदि शामिल रहे।

Share this story