कांग्रेस के फायर ब्राण्ड नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन शिवपाल यादव के रथ पर कांग्रेस छोड़ने की अटकलों का बाजार गर्म 

कांग्रेस के फायर ब्राण्ड नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन शिवपाल यादव के रथ पर कांग्रेस छोड़ने की अटकलों का बाजार गर्म

Newspoint24 / newsdesk /एजेंसी इनपुट के साथ 

प्रदेश की भाजपा सरकार पूरी तरह से हो चुकी है फेल : शिवपाल यादव
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन प्रसपा में शामिल, शिवपाल के साथ रथ पर की सवारी

मथुरा। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी(प्रसपा) के सुप्रीमो शिवपाल यादव ने मंगलवार को वृंदावन ठाकुर बांके बिहारी के दर से चुनावी शंखनाद करते हुए सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा निकाली।

इस दौरान कांग्रेस पार्टी को एक बड़ा झटका भी लगा है। कांग्रेस के फायर ब्राण्ड नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन ने प्रसपा के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव के साथ रथ पर बैठे हुए दिखाई दिए। इतना ही नहीं वह शिवपाल यादव को गद्दा भी भेंट किए। हालांकि उनकी प्रसपा में शामिल होने की अभी अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

इस मौके पर प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार पूरी तरह फेल हो चुकी है। चाहे कानून व्यवस्था हो या बेरोजगारी हर मुद्दे पर सरकार की नाकामी सामने आ रही है। लखीमपुर खीरी में किसानों को भाजपा के गृह राज्य मंत्री के बेटे ने गाड़ी से कुचल दिया। इसीलिए अब समय आ गया है कि इस सरकार को उखाड़ फेंका जाए।

यात्रा के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन ने शिवपाल सिंह यादव से मुलाकात कर उन्हें गदा भेंट की तथा उनके साथ रथ सवारी की और कई विषयों पर गहन चर्चा की।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (पीएसपीएल) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मंगलवार को मथुरा से अपनी ‘सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा’ शुरू की। रथयात्रा शुरू करने से पहले शिवपाल ने बांके बिहारी मंदिर में पूजा-अर्चना की। जहां गोस्वामियों ने उनका पटुका पहनाकर स्वागत भी किया।

उन्होंने कहा कि हम सत्ता परिवर्तन के लिए ही परिवर्तन रथ यात्रा निकाल रहे हैं। प्रदेश में सत्ता परिवर्तन होकर ही रहेगी। ठाकुर बांकेबिहारी महाराज से रथयात्रा के सफल आयोजन के लिए मनौती मांगने आए हैं। उन्होंने भाजपा को घेरते हुए कहा हिंसा की घटना के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को इस्तीफा देना चाहिए, क्योंकि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी उन्हीं के अधीन हैं।

शिवपाल की सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा में सबसे दिलचस्प बात यह रही कि उनके रथयात्रा में शामिल होने के लिए कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णन आए, उन्होंने कई विषयों पर बातचीत की तथा कृष्णन ने शिवपाल यादव को गदा भेंट किया।

वहीं, उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को पुराना मुकाम दिलाने में जी जान से लगी प्रियंका वाड्रा की मेहनत का कोई खास असर दिख नहीं रहा है। कांग्रेस के पूर्व सांसद राजाराम पाल सोमवार को लखनऊ में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से भेंट की, तो मंगलवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने शिवपाल सिंह यादव के साथ रथ की सवारी कर ली है। ऐसे में यूपी में कांग्रेस को लगातार झटके लग रहे हैं।

पार्टी के वरिष्ठ नेता और लखनऊ से लोकसभा चुनाव लड़ चुके प्रमोद कृष्णन मंगलवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव की सामाजिक परिवर्तन यात्रा के रथ पर सवार हो गए।

प्रमोद कृष्णन ने बताया कि राजनीति सम्भावनाओं का क्षेत्र है, लेकिन इतना जरूर कहूंगा कि उत्तर प्रदेश की सरकार को हटाने के लिए समान विचारधारा के लोग एक साथ आकर प्रदेश को इस अधार्मिक, अनैतिक, असंवैधानिक, अलोकतांत्रिक, तानाशाही सरकार को 2022 में उखाड़ फेंकेंगे।

इधर, कृष्णन ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि अखिलेश यादव से जो उम्मीद थी उस पर वे खरे नहीं उतरे हैं, यही कारण है कि वे जमीन पर कहीं नजर नहीं आ रहे।

शिवपाल यादव रथ में सवार होकर मथुरा होते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग से आगरा के लिए रवाना हो गए। शिवपाल की यात्रा सात चरणों में होगी और पहले चरण में आगरा, औरैया, इटावा से होकर गुजरेगी। अखिलेश के साथ गठबंधन की उनकी उम्मीदें धराशायी होने के बाद शिवपाल ने अपनी यात्रा शुरू करने का फैसला किया।
 

Share this story