कॉन्स्टेबल ने साथियों के साथ मिल ज्वैलर को किडनैप कर लूटा 

Nagaur: The constable kidnapped and robbed the mill jeweler along with his companions, suspended

Newspoint24/ संवाददाता 

नागौर । कॉन्स्टेबल पर अपने 2 साथियों के साथ ज्वैलर व्यवसायी को किडनेप कर दो दिन तक बंधक बनाकर रखने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि पीड़ित ज्वैलर से एक लाख 87 हजार रुपये की नगदी और 38 ग्राम सोने की चेन भी लूट ली गई। इसके अलावा पीड़ित के परिजनों को फोन कर 5 लाख रुपये की फिरौती भी मांगी गई। तीसरे दिन मामला बिगड़ता दिखा तो ज्वैलर को सड़क पर पटक दिया और भाग गए। परिजनों की रिपोर्ट पर जोधपुर जिले के फलौदी थाने में जीरो नंबरी एफआईआर दर्ज कर नागौर ट्रांसफर की गई है।

नागौर एसपी अभिजीत सिंह ने आरोपी कॉन्स्टेबल को सस्पेंड कर दिया 

श्रवणकुमार पुत्र देवीलाल सोनी निवासी धौलीबाला ने जोधपुर के फलौदी थाने में रिपोर्ट पेश कर बताया कि पांच दिन पहले रविवार को दोपहर में उसका बड़ा भाई हजारीलाल सोनी स्विफ्ट कार लेकर नागौर में उनके पुश्तैनी गांव करणु में दादा-दादी से मिलने गया था। वहां कॉन्स्टेबल मानसिंह और पप्पूराम सिंवर ने हजारीलाल को किडनैप कर लिया। अगले दिन नवरतन जाखड़ नाम के आदमी ने फोन कर धमकी दी कि हजारीलाल को मानसिंह, पप्पूराम सिंवर और उसने मिलकर किडनैप कर लिया है और हजारीलाल को जिंदा देखना चाहते हो तो 5 लाख रुपये लेकर आ जाओ। इसके अगले दिन जब वो 5 लाख रुपये लेकर वो नागौर जाने वाले थे, उससे पहले ही ये सभी उसके भाई को जोधपुर-बावड़ी रोड पर पटक कर भाग गए।

पीड़ित ज्वैलर हजारीलाल स्मैक और एमडी जैसे नशे के कारोबार से जुड़ा रहा है। मादक पदार्थ तस्करी से जुड़े उसके खिलाफ मामले भी दर्ज है। कॉन्स्टेबल मानसिंह गोदारा के खिलाफ मामला दर्ज होने और नशे के अवैध कारोबार में संलिप्तता की जानकारी सामने आते ही नागौर एसपी अभिजीत सिंह ने आरोपी कॉन्स्टेबल मानसिंह गोदारा को सस्पेंड कर दिया है।

Share this story