साक्षी शुक्ला ने  देश में लहरा जौनपुर का परचम
 

Newspoint24.com/newsdesk/


जौनपुर। जिले के ग्रामीण इलाके की एक और बेटी ने यह साबित कर दिया कि प्रतिभावान छात्र जिन्दगी में आने वाली सभी रूकावटों को दूर करके अपना मुकाम हासिल कर सकता है। यह बिटिया परिवार की गरीबी समेत सभी बाधाए दूर करते हुए वह मुकाम हासिल किया है जिसके लिए देश के नामी गिरामी कांवेन्ट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की पहली प्राथमिकता होती है।

  जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर की दूरी पर  स्थित मीरगंज थाना क्षेत्र के दारापुर गांव के निवासी विनय प्रकाश शुक्ला एक प्राईट कम्पनी में कार्य करते है उनकी पत्नी अंशु शुक्ला गुहणी है। उन्हे दो पुत्री और एक पुत्र है। श्री शुक्ला किसी तरह से बाल बच्चो की परवरिश करते है। पैसे की कमी के चलते उनके तीनों बच्चे सरकारी स्कूलों में शिक्षा ग्रहण किया है।

साक्षी शुक्ला गांव के सर्वोदय इण्टर कालेज से प्राथमिक शिक्षा से लेकर इण्टर तक की पढ़ाई करने के बाद अपनी प्रतिभा के बदौलत इलाहाबाद विश्वविद्यालय में बीएससी और एमएससी में अव्वल स्थान प्राप्त करने के बाद अब देश के सर्वोत्तम शैक्षणिक संस्थान अखिल भारतीय प्राद्योगिकी संस्थान रूड़की ( IIT Roorkee)में शोध के लिए भौतिक विषय पर न्यूक्लियर फिजिक्स विषय के चयनित हुई है। यह सीट पूरे देश स्तर पर दहाई में होती है।  साक्षी की इस सफलता से उसके माता पिता खुशी से झूम उठे है।

Share this story