ओमप्रकाश राजभर को मुख्तार नहीं लगता अपराधी की वकालत बोले मुसलमान होने की सजा मिल रही है   

ओमप्रकाश राजभर को मुख्तार नहीं लगता अपराधी की वकालत बोले मुसलमान होने की सजा मिल रही है

newspoint 24 / newsdesk / एजेंसी इनपुट के साथ 

10 लोग, लोग खड़े हैं और अंदर की फ़ोटो हो सकती है


इटावा। सुलेहदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी के खिलाफ मुसलमान होने के कारण योगी सरकार कार्रवाई कर रही है।


श्री राजभर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मुख्तार का गुनाह उसका मुसलमान होना है । मुसलमान होने के कारण मुख्तार पर कार्यवाही की जा रही है। पूर्वांचल में बिना मुख्तार के दरवाजे दस्तक दिए कोई भी पार्टी जीत का परचम नहीं लहरा सकती। सपा,बसपा,भाजपा और कांग्रेस का कोई भी नेता हो जिसको चुनाव जीतना होता है वो मुख्तार के यहां माथा जरूर टेकने जाता है। इस नाते पूर्वांचल के गरीब और वहां के नेता मुख्तार को मसीहा मानते हैं।

1 व्यक्ति, खड़े रहना और बाहर की फ़ोटो हो सकती है


उन्होने कहा कि माफिया मुख्तार अंसारी को मायावती गरीबों का मसीहा बताती रही है। देश की संसद और यूपी की विधानसभा मे आधे से अधिक अपराधी बैठे है। भाजपा कांग्रेस बसपा अपने दामन में देखे, हर ओर अपराधी ही अपराधी है।


सुभासपा अध्यक्ष ने कहा कि बडे हो चुके नेता देश में जातिवार गणना, सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू कराना नही चाहते है। उनकी पार्टी का एजेंडा पिछड़ी जाति का मुख्यमंत्री घोषित करना, एक समान और अनिवार्य निःशुल्क शिक्षा आदि शामिल है। भाजपा को हराने का मंसूबा लेकर छोटे-छोटे दलों को लेकर भागीदारी संकल्प मोर्चा का गठन किया जिसमें असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) भी शामिल हुई ।
 

Share this story