मथुरा दस ब्लॉकों में चलती रहीं मतगणना, बाहर उड़ती रही कोविड-19 के नियमों की धज्जियां

मथुरा दस ब्लॉकों में चलती रहीं मतगणना, बाहर उड़ती रही कोविड-19 के नियमों की धज्जियां

Newspoint24 / newsdesk 


मथुरा । जिले के ब्लॉक वार बने 10 मतगणना केन्द्रों पर रविवार मतगणना शुरू होने से पूर्व से लेकर दिनभर कोविड-19 के नियमां की धज्जियां उड़ती दिखाई दी। न अधिकांश लोगों के चेहरों पर मास्क था न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन दिखाई दिया। पुलिस की लाख कोशिश के बाद भी भीड़ पर काबू नहीं पाया जा सका। जबकि जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. गौरव ग्रोवर ने सभी मतगणना केन्द्रों का निरीक्षण किया और कोविड-19 के नियमें के सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए। 

रविवार सुबह मथुरा ब्लॉक की मतगणना वृंदावन दास प्रकाशवती राजकीय इंटर कॉलेज मथुरा, गोवर्धन ब्लॉक के डीएवी इंटर कॉलेज गोवर्धन, बलदेव ब्लॉक के डीएनवी कॉलेज निकट अवैरनी चौराहा, फरह ब्लॉक के पं दीनदयाल उपाध्याय राजकीय कन्या इंटर कॉलेज, चौमुंहा ब्लॉक के सर्वोदय महाविद्यालय, छाता ब्लॉक के गांधी इंटर कॉलेज, नंदगांव ब्लॉक के श्रीकृष्ण चैतन्य इंटर कॉलेज, मांट ब्लॉक के लोकमणि शर्मा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजकीय महाविद्यालय, नौहझील ब्लॉक के एसआरबीएस इंटरनेशनल स्कूल बाजना रोड और राया ब्लॉक की मतगणना नवीन उपमंडी समिति राया पर मतगणना शुरू हुई जो देरसायं तक चलती रही।  

वहीं मतगणना के दौरान कोविड-19 के नियमों के प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। न अधिकांश लोगों के चेहरों पर मास्क है और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है। मतगणना केन्द्र के बाहर जबर्दस्त भीड़ लग है। जिससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है।

मतगणना स्थल में प्रवेश के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है और मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा रहा है। मतगणना स्थल में प्रशासन द्वारा एजेंटों को कोविड 19 का पालन कराने का निर्देश दिए जा रहा हैं। लेकिन मतगणना स्थल के बाहर खड़े चाहते प्रत्याशियों के लोगों की जबर्दस्त भीड़ लगी है। इसके चलते कोविड-19 का पालन कराना पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ है। साप्ताहिक लॉकडाउन के मध्य लोगों के मुंह पर न ही मास्क न और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल है। 

काबिलेगौर बात यह है कि लॉकाउन बीच मतदान केन्द्रों के बाहर भीड़ जमा कैसे हुई। प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस यूपी की योगी सरकार के आदेशों का पालन कराने में नाकाम किस कारण है। 

Share this story