डिप्टी सीएम के सिद्धपीठ आगमन से क्षेत्रीय विकास की उम्मीद- महामंडलेश्वर

डिप्टी सीएम के सिद्धपीठ आगमन से क्षेत्रीय विकास की उम्मीद- महामंडलेश्वर

Newspoint24 / newsdesk

गाजीपुर । उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री को आमंत्रित करने का मकसद केवल शोभा या परिचय बढ़ाना नहीं, बल्कि क्षेत्र में लोक कल्याण एवं विकास परक कार्य के लिए प्रेरित करना है। उपरोक्त बातें सिद्धपीठ हथियाराम मठ के पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी भवानीनन्दन यति जी महाराज ने उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के सिद्धपीठ आगमन के सम्बंध में कही।

मीडिया से बात करते हुए पीठाधीश्वर ने कहा कि उप मुख्य मंत्री केशव प्रसाद मौर्य के सिद्धपीठ आगमन से बुढ़िया माई धाम के आध्यात्मिक मंच से करोड़ों की सौगात जनपद को मिल सकेगी। लोक निर्माण विभाग वाराणसी के अधिकारियों का कहना है कि इस यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री कई मार्गों का शिलान्यास करेंगे।

गौरतलब है कि कि विजयादशमी पर्व पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का आगमन 15 अक्टूबर शुक्रवार को सिद्धपीठ हो रहा है। वे बुढ़िया माई के दरबार में विधिवत पूजन अर्चन तथा शतचंडी महायज्ञ की पूर्णाहुति के बाद सिद्धेश्वर महादेव प्रांगण जायेंगे।

मौर्य वहां समी पूजन, शक्ति पूजन, ध्वज पूजन, शिव पूजन के बाद आध्यात्मिक मंच से श्रद्धालुओं को सम्बोधित करेंगे। कार्यक्रम के अनुसार उपमुख्यमंत्री दो घंटे तक सिद्धपीठ हथियाराम मठ पर रहेंगे। इस दौरान धार्मिक अनुष्ठान, पूजन, संत श्रद्धालु सभा के साथ ही विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

उप मुख्यमंत्री के आगमन से क्षेत्रीय लोगों में विकास योजनाओं, खासकर सड़क इत्यादि के ठीक होने की उम्मीद जग गई है। श्री यति जी महाराज ने बताया कि यह कार्यक्रम पूरी तरह आध्यात्मिक होगा। इसके लिए सड़कों पर पिचिंग सहित हैलीपेड निर्माण का कार्य तेजी से किया जा रहा है।

सादात ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि सन्तोष यादव ने भी कहा कि डिप्टी सीएम के आने से क्षेत्र के लोग खुश हैं। सड़कों की हालत काफी दयनीय थी लेकिन डिप्टी सीएम के आने से सड़कों पर गिट्टी गिर रही है। साथ ही कई कार्य तेजी से कराए जा रहाे हैं।

उन्होंने कहा कि जखनिया का दुर्भाग्य है कि विधायक कहीं नजर नही आ रहे हैं, ना ही जखनिया का विकास हुआ।

-जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने किया निरीक्षण

बुधवार की दोपहर जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह एवं पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने अपने मातहतों संग सिद्धपीठ हथियाराम मठ पहुंचकर मठ सेवक लौटू प्रसाद के साथ हेलीपैड से लगायत कार्यक्रम स्थल तक स्थलीय निरीक्षण किया।

इस दौरान दोनों अधिकारी तैयारियों के बाबत आवश्यक निर्देश देते नजर आए। उनके साथ उप जिलाधिकारी सूरज कुमार यादव, क्षेत्राधिकारी गौरव सिंह सहित बड़ी संख्या में अन्य अधिकारी मौजूद रहे। सुरक्षा व्यवस्था में दो प्लाटून पीएससी सहित पुलिस फोर्स तैनात है।

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story