झांसी : बच्चों के बीच अंतर रखने में अंतरा इंजेक्शन हैं फायदेमंद : डॉ जैन

up news

newspoint24

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी में महिलाओं के प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार लाने और परिवार नियोजन में लोगों की भागीदारी बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य विभाग निरंतर प्रयास कर रहा है। इसी क्रम में बच्चों के बीच अंतर रखने में अंतरा इंजेक्शन के महत्व को चिकित्सकों ने भी रेखांकित किया है। परिवार नियोजन के नोडल अधिकारी डॉ. एन के जैन ने गुरूवार को कहा कि अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए व दो बच्चों के बीच अंतर रखने के लिए एक सुरक्षित अस्थायी गर्भनिरोधक विकल्पों में से एक है। तीन माह के अंतराल पर लगने वाला यह इंजेक्शन एक बार लगवाने पर तीन माह तक अनचाहे गर्भ से छुटकारा देता है। यह जिला महिला अस्पताल सहित सभी प्राथमिक और उप केन्द्रों पर लगाया जाता है। पहला इंजेक्शन डॉक्टर की देख रेख में लगाया जाता है, फिर उसके बाद एएनएम अपने स्तर पर इस इंजेक्शन को लगाती है। दो बच्चों के बीच अंतराल हो या महिला बच्चे पैदा करने की स्थिति में न हो, ऐसे में अंतरा इंजेक्शन बहुत सहायक है, यहाँ तक कि जिन महिलाओं में खून की कमी है और थोड़ा समय बाद बच्चा चाहती है तो यह इंजेक्शन उनके लिए बहुत फ़ायदेमंद हो सकता है, क्योंकि अंतरा के लगने के बाद महिला माहवारी से नहीं होती।
 

कंपाउंड की रहने वाली निशी एक बेटी की माँ है, बेटी के जन्म के बाद ही उन्होने तय किया था कि दूसरा बच्चा 3-4 साल के बाद ही करेंगे, इसके लिए उन्होने डॉक्टर से बात की। डॉक्टर की सलाह पर उन्होने अंतरा इंजेक्शन अपनाया और करीब डेढ़ साल से वह हर 3 माह पर अंतरा इंजेक्शन लगवा रही हैं। वह बताती है कि इससे उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो रही है और एक तरफ वह खुश हैं कि बिना किसी टेंशन के दांपत्य जीवन बिता रही हैं। स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2019-20 में 4421 अंतरा की डोज़ दी गयी वहीं वर्ष 2020-21 में 3170। वर्ष 2021-22 में जून तक 371 महिलाओं ने अंतरा अपनाया, वहीं जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा के दौरान 11 जुलाई से 18 जुलाई तक 153 महिलाओं ने अंतरा इंजेक्शन अपनाया है। अंतरा की सबसे ख़ास बात अंतरा केयरलाइन टोल फ्री नंबर 1800-103-3044 है जिससे जुड़कर महिलाएँ किसी भी तरह की समस्या होने पर घर बैठे ही सलाह ले सकती हैं। टोल फ्री नंबर डायल करने पर अंतरा से जुड़ी हर समस्या की उचित सलाह परामर्शदाता से मिल जाती है। अतः अंतरा इंजेक्शन लगवाते ही महिला को अंतरा केयरलाईन 1800-103-3044 पर अपने को पंजीकृत करवाना चाहिए।  पहला इंजेक्शन लगवाते ही लाभार्थी महिला को इस नम्बर पर (1800 103 3044) कॉल कर अपना नाम रजिस्टर्ड करवाना है, ताकि उन्हें उसके बाद समय पर इन्जेक्शन सम्बन्धी परामर्श की सुविधा मिलती रहे। रजिस्टर्ड होने के बाद महिला को केयर लाइन से अगले इंजेक्शन की तारीख भी याद दिलायी जाती है। टोल फ्री नंबर पर दी गई सभी सूचनाएं गोपनीय रखी जाती है। टोल फ्री नम्बर की सुविधा सुबह 8 से रात 9 बजे तक उपलब्ध है।
 

डॉक्टर के द्वारा उचित स्क्रीनिंग हो जाने पर गर्भनिरोधक इंजेक्शन को किसी भी समय चुना जा सकता है पर पहली डोज़ लेने पर इन बातो का ख्याल रखना चाहिए कि नियमित मासिक धर्म के बाद कभी भीप् रसव के 6 सप्ताह के बाद गर्भपात के तुरंत बादइं जेक्शन लगाने के बाद इन बातों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए जहाँ इंजेक्शन लगा उस जगह मालिश न करें, इंजेक्शन की जगह पर गर्म सिकाई न करें ,इंजेक्शन लगने के बाद 5-10 मिनट के लिए अस्पताल में ही रुके अंतरा कार्ड पर दी गयी तारीख पर ही इंजेक्शन लगवाए। नवविवाहित दंपति, प्रसव के बाद स्तनपान कराने वाली महिला, प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद शुरू कर सकती है और महिला जो दो बच्चों के बीच अंतर रखना चाहती है ये सभी अंतरा इंजेक्शन का इस्तेमाल कर सकती हैं।

Share this story