गुरु गोरक्षनाथ जी को खिचड़ी चढ़ाने के लिए देवीपाटन में लगा श्रद्धालुओं का तांता

Newspoint24.com/newsdesk/ 


बलरामपुर । मकर संक्रांति के मौके पर शक्ति पीठ मंदिर देवीपाटन में स्थापित महायोगी गुरु गोरक्षनाथ की प्रतिमा पर खिचड़ी चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं का सुबह से ही तांता लगा हुआ है।

गुरुवार को सूर्य के उत्तरायण होते ही शुभ मुहूर्त में सर्वप्रथम मंदिर के मुख्य पुजारी अमरेन्द्र नाथ योगी ने विधि विधान से पूजन कर गुर गोरक्षनाथ जी को खिचड़ी चढ़ाई। मुख्य पुजारी द्वारा खिचड़ी पूजन उपरांत दूरदराज से खिचड़ी चढ़ाने के लिए जुटे सैकड़ों श्रद्धालुओं ने मंदिर में स्थित पवित्र सरोवर सूर्यकुंड में स्नान कर कतारबद्ध होकर खिचड़ी चढ़ा रहे है। क्षेत्रीय किसानों के परिवारों द्वारा खेतों में हुई नई उपज आलू, मूली, सरसों भी खिचड़ी के साथ चढ़ाया जा रहा है। मंदिर पर श्रद्धालुओं के भीड़ को देखते हुए स्थानीय प्रशासन द्वारा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था भी लगाई गई है।

मुख्य पुजारी अमरेंद्र नाथ योगी ने बताया कि मकर सक्रांति पर महायोगी गुरु गोरक्षनाथ जी को खिचड़ी चढ़ाने की परम्परा हजारों वर्षों से चली आ रही है। खिचड़ी चढ़ाने को लेकर अनेकों मन्यताऐं है। 

उपजिलाधिकारी विनोद सिंह ने बताया कि मंदिर पर पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा व्यवस्था लगाई गई है। शक्तिपीठ मंदिर देवीपाटन में स्थापित गुरु गोरखनाथ जी की प्रतिमा पर खिचड़ी चढ़ाने के लिए दूरदराज से श्रद्धालुओं का आवागमन होता है। संक्रांति के मौके पर श्रद्धालुओं का भारी रेला जुटती है। 

 उल्लेखनीय है कि इक्यावन शक्ति पीठों में शुमार शक्ति पीठ देवीपाटन पीठ की स्थापना महायोगी गुरु गोरक्षनाथ जी के द्वारा की गई थी। शक्ति पीठ पर मां पाटेश्वरी जी के साथ ही महायोगी द्वारा स्थापित अखंड धूने का पूजन श्रद्धालु करते है।

Share this story