विश्व यज्ञ दिवस पर हवन कुंड में कोरोना के नाश के लिए आहुति

विश्व यज्ञ दिवस पर हवन कुंड में कोरोना के नाश के लिए आहुति

Newspoint24.com/newsdesk

वाराणसी।  सामनेघाट स्थित तारा नगर कालोनी के वेद मंदिर में वैश्विक महामारी कोरोना के नाश के लिए हवन-पूजन किया गया।  

वैदिक एजुकेशनल रिसर्च सेंटर के संस्थापक ज्योतिषाचार्य पं. शिवपूजन शास्त्री के आचार्यत्व में  कोविड के नियमों का पालन करते हुए वैदिक ब्राम्हणों ने कोरोना के नाश के लिए हवन कुंड में आहुति डालकर यज्ञ माता से कोरोना के नाश की कामना की।  

इस अवसर पर पं. शिवपूजन शास्त्री ने कहा कि भारत में यज्ञ करने की परम्परा अनादिकाल से रही है।  धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज हमेशा यज्ञ कराते रहते थे।  यज्ञ कराने से प्रकृति में व्याप्त नकारात्मक शक्तियां नष्ट होती है और एक सकरात्तक ऊर्जा का संचार होता है।  

उन्होंने कहा कि आज कोरोना के खात्मे के लिए जरूरत है शतचण्डी महायज्ञ करने की। शतचण्डी यज्ञ में एक लाख दुर्गा सप्तशती का पाठ करके अग्नि कुंड में आहुति डाली जाती है।  अगर कोरोना के नाश के लिए शतचण्डी महायज्ञ काशी में किया जाये तो कोरोना का समूल नाश हो जायेगा। उन्होंने कहा कि काशी के विद्वान अगर तैयार हो तो वह सहयोग देने को तैयार है।  
 

Share this story