गाजियाबाद : मुरादनगर के उखरालसी श्मशान घाट में लेंटर गिरने से 23 लोगों की मौत

प्रशासन ने 23 मृतकों और 8 घायलों की सूची जारी की

Newspoint24.com/newsdesk/ 

गाजियाबाद । मुरादनगर के उखरालसी श्मशान घाट में लेंटर गिरने से मलबे में दबकर मरने वालों की संख्या 23 पहुंच गई है। मौके पर अभी भी बचाव कार्य चल रहा है। बारिश के कारण बचाव कार्य में लगे लोगों को परेशानी हो रही है। इस हादसे में 8 लोग घायल हुए हैं जिन्हें जिला अस्पताल के अलावा निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री अतुल गर्ग ने अस्पतालों का दौरा किया और अस्पताल प्रशासन को घायलों के इलाज में कोई कोताही नहीं बरतने के निर्देश दिए। 

जिला अस्पताल एमएमजी के चिकित्सक डॉ. एके विश्वकर्मा ने बताया कि अभी तक 18 लोगों के शव पहुंच चुके हैं। 8 घायलों को जिला अस्पताल के अलावा निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री अतुल गर्ग ने इन अस्पतालों का दौरा किया और अस्पताल प्रशासन को घायलों के इलाज में कोई कोताही नहीं बरतने के निर्देश दिए। राज्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री के स्पष्ट निर्देश है कि घायलों के इलाज में कोई कोताही न बरती जाए और उन्हें हर संभव इलाज दिया जाए। 

गौरतलब है की मुरादनगर श्मशान घाट पर इस समय एक गलियारे का निर्माण कार्य चल रहा है। आज तड़के से हो रही लगातार बारिश के बीच बालाजी कॉलोनी निवासी यादराम का निधन हो गया था। कालोनी के लोग व रिश्तेदार उनके शव को अंतिम संस्कार के लिए मुरादनगर श्मशान घाट ले गए थे। बारिश से बचने के लिए ये लोग निर्माणाधीन लेंटर के नीचे खड़े थे तभी लेंटर भरभराकर गिर गया। अंतिम संस्कार के दौरान यह हादसा होने से अफरातफरी मच गई। तत्काल ही स्थिति को गंभीर देखते हुए एनडीआरएफ की टीमों को बुलाया गया और बचाव राहत कार्य शुरू कर दिया गया। एनडीआरएफ कर्मियों ने अब तक 8 लोगों के शवों को बाहर निकाला है जबकि अभी भी कई लोगों के दबे होने की आशंका है। मौके पर बचाव कार्य जारी है।

समाजवादी पार्टी नेता व पूर्व विधायक सुरेंद्र कुमार मुन्नी ने कहा है कि यह हादसा बेहद दुखद है। मरने वालों और घायलों के परिजनों के साथ उनकी शोक संवेदनाएं हैं। उन्होंने सरकार से मांग की है कि मरने वालों के परिजनों के कम से कम एक सदस्य को नौकरी दी जाए। राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता सरदार इंदरजीत सिंह टीटू ने भी अपनी शोक संवेदना व्यक्त की है। सोशल चौकीदार के अध्यक्ष केके शर्मा ने भी कहा है कि यह बेहद गंभीर मामला है। इतने सारे लोगों की मौत के लिए कौन जिम्मेदार है। उन्होंने इस मामले की पूरी जांच कराने की मांग की।

मरने वालों की सूची 

घायलों की सूची 

Share this story