मील का पत्थर साबित होगी गति-शक्ति योजना: जितिन प्रसाद

Newspoint24 / newsdesk

Newspoint24 / newsdesk

अयोध्या  । राज्य के प्राविधिक शिक्षा मंत्री जितिन प्रसाद ने राजकीय पॉलिटेक्निक के छात्र-छात्राओं से संवाद किया। उनकी समस्याएं सुनकर सलाह भी दी। इस दौरान प्रसाद ने कहा कि प्राविधिक शिक्षा विभाग का दायित्व मिलने के बाद मैं अयोध्या की धरती पर पहली बार आया हूं। मैं सौभाग्यशाली हूं कि पवित्र नगरी अयोध्या में आने का अवसर मिला।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज गति-शक्ति योजना का शुभारंभ किया है। यह बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है। यह योजना 100 लाख करोड़ रुपए की है। इस योजना के तहत 16 विभाग एक साथ काम करेंगे।आने वाले पांच सालों में इस योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा। इसकी उपलब्धि आने वाले 20 से 25 सालों में मिलेगी। जितने भी इंफ्रास्ट्रक्चर हैं, सड़क हो फ्लाईओवर हो, अर्बन डेवलपमेंट या रूरल डेवलपमेंट हो सभी का समायोजन जरूरी है। प्रसाद ने कहा कि भारत के निर्माण में मील का पत्थर साबित होगी गति शक्ति योजना।

सर्किट हाउस में भाजपा पदाधिकारियों ने किया स्वागत

प्रदेश सरकार में मंत्री जितिन प्रसाद का अयोध्या सर्किट हाउस पहुंचने पर पार्टी पदाधिकारियों ने स्वागत किया। पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में उन्होने संगठनात्मक गतिविधियों की जानकारी ली। महानगर जिलाध्यक्ष अभिषेक मिश्रा व पूर्व जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय बादल ने राजकीय इंजीयरिंग कालेज का जनपद में निर्माण कराये जाने की मांग की। जिसका लाभ अगल बगल के जनपदों को भी मिलेगा। जितिन प्रसाद ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से समाज का हर वर्ग प्रसन्न है। पदाधिकारी व कार्यकर्ता सरकार की उपलब्धियों को जन जन तक पहुंचाने में अपनी भूमिका तय करें। यूपी में बेहतर शैक्षिक परिवेश का निर्माण करने के लिए सरकार ने कई योजनाएं प्रदान की है। इस अवसर पर ओम प्रकाश सिंह, गिरीश पाण्डेय डिप्पुल, कृष्ण कुमार पाण्डेय खुन्नू, अरविंद सिंह, शैलेन्दर कोरी, रवि सोनकर, दिवाकर सिंह, आकाश मणि त्रिपाठी, विपिन सिंह बब्लू, रवि शर्मा, डा अंशुमान मित्रा, राम कुमार सिंह राजू मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story