प्रख्यात पर्यावरणविद पद्मभूषण डॉ. अनिल प्रकाश जोशी बोले पानी बेचने का नहीं, एकत्र करने का हो व्यापार 

पानी बेचने का नहीं, एकत्र करने का हो व्यापार : डॉ अनिल जोशी

Newspoint 24 / newsdesk 

 मेरठ। प्रख्यात पर्यावरणविद पद्मभूषण डॉ. अनिल प्रकाश जोशी ने कहा कि भारत देश में पानी को बेचने के व्यापार की बजाय अब पानी को एकत्र करने का व्यापार होना चाहिए। तभी भावी पीढ़ियों के लिए हम पानी बचा पाएंगे।

भूगर्भ जल विभाग खंड मेरठ की ओर से शनिवार को भूगर्भ जल पर वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार का संचालन करते हुए जागरूक नागरिक एसोसिएशन के महासचिव गिरीश शुक्ला ने कहा कि पानी को बनाया नहीं जा सकता, लेकिन उसे बचाकर सहेजा जा सकता है। विद्या कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के निदेशक डॉ. राजीव कुमार ने कहा कि युवाओं को पानी के महत्व से अवगत कराना होगा। उनके आगे आने पर ही पानी बचाया जा सकता है।

मुख्य वक्ता पद्मभूषण डॉ. अनिल प्रकाश जोशी ने कहा कि हमें पानी की बूंद-बूंद को सहेजना होगी। तभी भावी पीढ़ी को स्वच्छ जल और स्वच्छ पर्यावरण मिलेगा। किसानों और उद्यमियों को भी पानी बचाने के लिए करना होगा। कम पानी की खपत वाली फसलों की बुआई करनी होगी। उद्योगों में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के जरिए पानी को शुद्ध करके फिर से प्रयोग करने का काम करना होगा। एनसीसी के मेजर सुनील शर्मा ने कहा कि जल और पर्यावरण संरक्षण का पाठन विद्यार्थियों को पढ़ाना होगा। वेबिनार में प्रो. एके शुक्ला, मेजर एसपी गौड़, सीपीएस यादव, एसके शर्मा, सुधीर चौहान, विजय मान आदि मौजूद रहे।
 

Share this story