हमीरपुर बेतवा पुल पर डंपर ने मासूम छात्रा को रौंदा

हमीरपुर बेतवा पुल पर डंपर ने मासूम छात्रा को रौंदा

Newspoint24 / newsdesk

हमीरपुर । हमीरपुर शहर के बेतवा पुल पर मंगलवार को स्कूल पढऩे जा रही एक कक्षा छठवीं क्लास की छात्रा को डंपर ने पीछे से रौंद डाला, जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। घटना से स्कूल आ रहे तमाम छात्र और छात्राएं भड़क गई और अपनी-अपनी साइकिलें फेंककर कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 जाम कर हंगामा किया। जाम के कारण सैकड़ों छोटे बड़े वाहनों की पुल के दोनों ओर लम्बी लाइनें लगी रही। पुलिस और परिजनों के समझाने के बाद किसी तरह जाम खुल सका।

हमीरपुर सदर कोतवाली क्षेत्र के हेलापुर गांव की मानसी (13) पुत्री विनोद साहू राजकीय बालिका इण्टर कालेज हमीरपुर में कक्षा 6 में पढ़ती थी। वह आज साइकिल से पढ़ने स्कूल आ रही थी। पीछे उसकी तमाम सहेलियां भी साइकिल से स्कूल आ रही थीं तभी बेतवा पुल पर पीछे से आ रहे डंपर ने उसे रौंद डाला, जिससे मानसी की मौके पर ही मौत हो गई। घटना देख बड़ी संख्या में छात्र और छात्राओं ने पुल पर जाम लगा दिया।

छात्रा आकांक्षा, रोशनी व स्मृति सहित तमाम बच्चों ने सीओ सदर और कोतवाल के सामने कहा कि पांच किमी दूर स्कूल पढ़ने जाने के लिए रोडवेज बसें नहीं रुकती है। कोई साधन भी नहीं है। किराया भी बढ़ा दिया गया है, जिसके कारण मजबूरी में साइकिल से पढ़ने स्कूल जाना पड़़ता है। बच्चों ने कहा कि रोडवेज बस की सुविधा के साथ पुल के दोनों तरफ सिपाहियों की ड्यूटी लगाई जाए और भारी वाहनों की इन्ट्री पर स्कूल खुलने और बंद होने तक रोक लगाई जाए। इसके अलावा पुल के दोनों तरफ स्पीड ब्रेकर भी बनवाए जाएं। सीओ सदर अनुराग सिंह ने बताया कि डंपर चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुकदमा लिखा जा रहा है। बच्चों की मांगों पर कार्रवाई की जाएगी।

बेटी की मौत से मां सदमे में, साथी छात्राएं भी बदहवास

घटना में मानसी की मौत से मां सुधा साहू और परिवार के लोग सदमे में है। वहीं साथी छात्राएं भी बदहवास है। रोशनी और आकांक्षा ने बताया कि ऐसी घटनाएं रोकी जा सकती हैं, यदि स्कूली बच्चों को स्कूल आने और जाने के लिए रोडवेज बसों की सुविधा मुहैया कराई जाए।

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story