सपरिवार तिरुचिरापल्ली पहुंचे सीएम शिवराज, श्रीरंगम मंदिर में की पूजा-अर्चना

CM Shivaraj reached Tiruchirappalli with family, worshiped at Srirangam temple

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि विविध स्थापत्य कला का अलौकिक प्रमाण

श्री रंगनाथ स्वामी मंदिर भगवान विष्णु के 108 दिव्य देशम कहे जाने

वाले क्षेत्रों में प्रथम माना जाता है। उन्होंने कहा कि मेरा परम सौभाग्य

है कि आज श्री रंगनाथ स्वामी जी के दर्शन एवं उनकी पूजा-अर्चना का अवसर मिला।

Newspoint24/एजेंसी इनपुट के साथ 

 

मदुरै । एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को सपत्नीक तिरुचिरापल्ली पहुंचे। यहां उन्होंने श्रीरंगम (रंगनाथ स्वामी) मंदिर में पूजा-अर्चना की। उन्होंने मंदिर में भगवान का आशीर्वाद प्राप्त कर प्रदेशवासियों के सुख एवं समृद्धि के लिए कामना की। मुख्यमंत्री चौहान को मंदिर के पदाधिकारियों ने श्रीरंगम का चित्र भेंट किया।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि विविध स्थापत्य कला का अलौकिक प्रमाण श्री रंगनाथ स्वामी मंदिर भगवान विष्णु के 108 दिव्य देशम कहे जाने वाले क्षेत्रों में प्रथम माना जाता है। उन्होंने कहा कि मेरा परम सौभाग्य है कि आज श्री रंगनाथ स्वामी जी के दर्शन एवं उनकी पूजा-अर्चना का अवसर मिला।

मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि रंगनाथ स्वामी जी के चरणों में प्रणाम है। मध्य प्रदेश वासियों के जीवन में सुख, समृद्धि, कल्याण की उत्तरोत्तर वृद्धि करें।

उन्होंने कहा कि श्रीरंगम भारत में सबसे बड़ा मंदिर परिसर है। रंगनाथस्वामी के मूल मंदिर की स्थापना महान चोल राजाओं ने की थी, जिसे आक्रमणकारियों ने खंडित कर दिया था। कालांतर में जीर्णोद्धार कर मंदिर में मूर्तियों की पुनः प्राण प्रतिष्ठा करवाई गई थी और मंदिर को यह भव्य-दिव्य स्वरुप दिया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रीरंगम मंदिर न केवल आध्यात्मिक ऊर्जा का अखंड स्रोत है, बल्कि सनातन धर्म में निहित 'नर सेवा नारायण सेवा', शिक्षा, संस्कृति का का संगम है। मंदिर द्वारा संचालित शिक्षा केंद्र, अस्पताल और वृहद रसोईघर अद्भुत हैं। मानव कल्याण को समर्पित मंदिर की संचालन समिति को शत-शत नमन करता हूं।

बतादें कि मुख्यमंत्री चौहान मंगलवार को सपरिवार तमिलनाडु और महाराष्ट्र दौरे पर रवाना हुए। मुख्यमंत्री जियार मठ से मदुरै जाएंगे और मीनाक्षी मंदिर के दर्शन करेंगे। मुख्यमंत्री चौहान रात्रि विश्राम मदुरै में ही करेंगे। मुख्यमंत्री बुधवार, 24 नवंबर को मदुरै से प्रस्थान कर श्रीवेलीपुत्तुर जाएंगे। वहां दर्शन-पूजन कर गोंदिया, महाराष्ट्र के लिए रवाना होंगे। मुख्यमंत्री गोंदिया से भोपाल रवाना होंगे।

Share this story