बिहार  : मंत्रियों, विपक्षी नेताओं, न्यायाधीशों, पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की जासूसी गंदी बात : नीतीश

Bihar news

newspoint24

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज मंत्रियों, विपक्षी नेताओं, न्यायाधीशों, पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की जासूसी की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि यह बहुत ही गंदी बात है। श्री कुमार ने सोमवार को जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बातचीत इजराइली सॉफ्टवेयर पेगासस के जरिए मंत्रियों, विपक्ष के नेताओं, न्यायाधीशों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और पत्रकारों की कराई गई जासूसी के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि फोन टैपिंग बड़ी गंदी बात है। फालतू चीज है, किसी को भी परेशान करना अच्छी बात नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह तो शुरू से कह रहे हैं कि यह जो नई तकनीक आई है वह तो आफत करेगी। इस पर गौर किया जाना चाहिए। नई तकनीक का दुरुपयोग हो रहा है और इसका बुरा असर भी पड़ रहा है। कई जगह लोगों को परेशानी भी हो रही है। लोग काम करना चाहते हैं तो उसमें बाधा आती है। उन्होंने कहा कि कोई नकारात्मक और गलत काम करें तो उस पर कार्रवाई का प्रावधान भी है लेकिन इसके बावजूद कुछ लोग इस तरह का काम करते ही रहते हैं ।

श्री कुमार ने कहा, "अभी यह जो कोरोना आया है यह इस रूप में क्यों हो रहा है । एक के बाद दूसरी और अब तीसरी लहर की बात हो रही है। यह सच है कि तकनीक का लाभ भी लोगों को मिलता है तो उसका दुरुपयोग भी होता है। सोशल मीडिया का आज कितना इंपैक्ट बढ़ गया है लेकिन वहां पर कोई अच्छी बात भी करता है तो बहुत लोग गलत और समाज विरोधी बातें भी करते रहते हैं। ऐसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का प्रावधान भी है लेकिन जब तकनीक आ गई है तो कई तरह से लोगों को परेशान करना चलता ही रहता है।

Share this story