बिहार : चयनित अभ्यर्थियों की सूची 20 जुलाई तक होगी अपलो

Bihar news

newspoint24

पटना। बिहार सरकार ने अभ्यर्थियों की शिकायत पर कड़ा रुख इख्तियार करते हुए सभी नियोजन इकाइयों को 20 जुलाई तक सभी चयनित प्रारंभिक शिक्षकों की सूची प्रत्येक जिले की वेबसाइट पर अपलोड करने का निर्देश दिया है। चयनित अभ्यर्थियों द्वारा चयन सूची को सार्वजनिक नहीं किए जाने की शिकायत पर बिहार प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ. रंजीत कुमार सिंह ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को जारी निर्देश में कहा कि कक्षा एक से पांच और कक्षा छह से आठ के लिए संबंधित नियोजन इकाइयों द्वारा शिक्षकों की नियुक्ति के लिए प्रथम चरण की काउंसिलिंग 12 जुलाई 2021 को संपन्न हो चुकी है। काउंसिलिंग में सम्मिलित अभ्यर्थी, मेधा सूची एवं आरक्षण रोस्टर को ध्यान में रखकर चयन सूची तैयार की जानी है। उन्होंने कहा कि कुछ अभ्यर्थियों ने सूचना दी है कि नियोजन इकाई चयन सूची को सार्वजनिक नहीं कर रही है।


श्री सिंह ने कहा कि नियोजन इकाई की कार्रवाई को पारदर्शी बनाने के उद्देश्य से यह आवश्यक है कि नियोजन इकाईवार चयनित अभ्यर्थियों की सूची को शीघ्र सार्वजनिक किया जाए। इसके लिए निर्देश दिया जाता है कि संबंधित नियोजन इकाई से चयन सूची प्राप्त कर 20 जुलाई तक जिला के नेशनल इंफॉर्मेटिक सेंटर (एनआईसी) की वेबसाइट पर अपलोड किया जाए। उन्होंने कहा कि चयन सूची में अभ्यर्थी का नाम, कोटि, मेधा अंक, विषय एवं आरक्षण का स्पष्ट अंकन होना अनिवार्य होगा। गौरतलब है कि बिहार शिक्षा विभाग के इस आदेश के बाद से राज्य में में 94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों के पद के लिए 12 जुलाई को संपन्न प्रथम चरण में हुई काउंसिलिंग में चयनित अभ्यर्थियों का नियुक्ति को लेकर संशय दूर हो जाएगा। पहले चरण की काउंसिलिंग में लगभग 400 जिन नियोजन इकाइयों की काउंसिलिंग और मेधा सूची रद्द की जा चुकी है, उन नियोजन इकाइयों को छोड़ कर शेष साढ़े चार हजार नियोजन इकाइयों की चयन सूची बीस जुलाई तक जिले की वेबसाइट पर सार्वजनिक होगी।

Share this story