बिहार : खरमास के बाद होगा बिहार में मंत्रिमंडल का विस्तार घटक दलों में कोई मतभेद नहीं - सहनी

Newspoint24.com/newsdesk/

पटना । बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चल रही अटकलों और बयानबाजियों के बीच राज्य के पशुपालन एवं मत्स्य संसाधन मंत्री मुकेश सहनी की भी प्रतिक्रिया आई है। शनिवार को उन्होंने कहा कि खरमास के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार होगा। हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को इसके उलट बयान दिया था और कहा था कि अभी तक इस संबंध में कोई चर्चा नहीं हुई है। उन्होंने मंत्रिमंडल विस्तार में हो रही देरी के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा था कि मेरे कार्यकाल में पहली बार देरी हुई है।

नीतीश कुमार के इस बयान पर शनिवार को बीजेपी की तरफ से प्रतिक्रिया आई। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि प्रदेश नेतृत्व व आलाकमान जल्द इस मसले को लेकर मुख्यमंत्री से बात भी करेगा। मुख्यमंत्री ने जो चिंता जताई है, उसका जल्द समाधान कर लिया जाएगा।

 दूसरी तरफ विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के अध्यक्ष मुकेश सहनी ने एनडीए के घटक दलों में मतभेद की खबरों को भी नकार दिया। उन्होंने कहा कि हमारे बीच में कोई मतभेद नहीं है। बता दें कि अरुणाचल प्रदेश की घटना के बाद बिहार का राजनीतिक तापमान काफी बढ़ गया था। राजद की तरफ से नीतीश कुमार को भी साधने की कोशिश हुई। राजद उपाध्यक्ष श्याम रजक ने यहां तक दावा कर दिया था कि जदयू के 17 विधायक कभी भी लालटेन थाम सकते हैं।

 वहीं, नए साल में पहली बार बिहार पहुंचे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने पटना में शुक्रवार को सारी संभावनाओं को नकारते हुए कहा कि नीतीश कुमार के साथ जाने का कोई सवाल ही नहीं है। तेजस्वी ने यह भी कहा कि बिहार में मध्यावधि चुनाव होना तय है और मैंने अपने कार्यकर्ताओं को इसके लिए तैयार रहने को कह दिया है।

Share this story