आयुष्मान योजना बन रही लोगों के लिए वरदान 

newspoint24.com/newsdesk

जींद। विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहरलाल की सोच है कि पैसे के अभाव में किसी की मौत न हो। इसी सोच को लेकर सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की शुरूआत 23 सितंबर 2018 को की गई थी। योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का गोल्डन कार्ड बनाया जाता है। जिससे निजी तथा सरकारी अस्पतालों में लाभार्थी मुफ्त उपचार करवा सकते हैं। 
विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा नागरिक अस्पताल में सोमवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इस मौके पर सीएमओ डा. मनजीत सिंह, डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला, आयुष्मान योजना के नोडल अधिकारी डा. अजय मौजूद रहे। विधायक ने बताया कि अभी तक जिला के अधिकतर लोगों ने आयुष्मान योजना के तहत अपना गोल्डन कार्ड नहीं बनाया है। जिला में कुल 3 लाख 90 हजार लोगों के गोल्डन कार्ड बनवाए जाने हैं और अबतक एक लाख 35 हजार लोगों के ही कार्ड बन पाए हैं। ऐसे में उन्होंने पार्षदों, सरपंचों से आह्वान किया कि वो अपने यहां पात्र लोगों का आयुष्मान कार्ड अवश्य बनवाएं। आयुष्मान भारत योजना के नोडल अधिकारी डा. अजय चालिया ने बताया कि अब तक 5500 लोग अपने गोल्ड कार्ड का लाभ उठा चुके हैं। इन पर कुल सवा छह करोड़ रुपये की राशि को खर्च किया गया है। जिला में कुल 82 हजार परिवार सूची में शामिल हैं और इनमें तीन लाख 90 हजार लाभार्थी शामिल हैं। अबतक एक लाख 35 हजार लोगों के ही कार्ड बने हैं। 

Share this story