इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्तागण राष्ट्रपति कार्यक्रम से अलग

इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्तागण राष्ट्रपति कार्यक्रम से अलग

Newspoint24 / newsdesk

प्रयागराज । इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी ने गुरुवार को बैठक में निर्णय किया है कि 11 सितम्बर को हाईकोर्ट में अधिवक्ताओं के चैम्बर तथा राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय का शिलान्यास राष्ट्रपति करेंगे। लेकिन दुर्भाग्य है कि हाईकोर्ट प्रशासन द्वारा आमंत्रित करने के बाद उक्त कार्यक्रम से अलग कर दिया, जो निन्दनीय है।

बैठक में अध्यक्ष अमरेन्द्र नाथ सिंह एवं महासचिव प्रभा शंकर मिश्र ने संयुक्त रूप से कहा कि अधिवक्ता न्यायपालिका की न्यायिक व्यवस्था का एक अभिन्न अंग है और अधिवक्ता चैम्बर का शिलान्यास अधिवक्ताओं की मांग पर ही किया जा रहा है। इस प्रकार जो नई परम्परा हाईकोर्ट प्रशासन द्वारा स्थापित की जा रही है, वह न्यायपालिका तथा बार एसोसिएशन के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है।

उन्होंने कहा है कि शिलान्यास समारोह मात्र हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति व चन्द लोगों के लिए नहीं है, बल्कि उसमें अधिवक्ता समाज की भी बराबर की हिस्सेदारी है और बिना अधिवक्ता के समारोह करने की कल्पना करना दुर्भाग्यपूर्ण है तथा न्यायपालिका का यह कृत्य अधिवक्ता समाज को कमजोर करने का कार्य करेगा।

बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि हाईकोर्ट प्रशासन के इस प्रकार के उपेक्षित व्यवहार का अधिवक्तागण पुरजोर विरोध करते हैं। बैठक में वरिष्ठ उपाध्यक्ष जमील अहमद, अजय कुमार मिश्र, अनिल पाठक, केके मिश्रा, अंजू श्रीवास्तव, अभिषेक शुक्ला, आदि उपस्थित रहें।

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story