मुख्तार पर पोटा लगाने वाले पुलिस डिप्टी  सुपरिन्टेन्डेन्ट  पर लगे सभी मुकदमें वापस

Newspoint24.com/newsdesk

लखनऊ । पंजाब की जेल में बंद उत्तर प्रदेश के माफिया और विधायक मुख्तार अंसारी पर पोटा लगाने वाले डिप्टी  सुपरिन्टेन्डेन्ट शैलेंद्र सिंह को अदालत  से बड़ी राहत मिली है और उनके खिलाफ दायर सभी मुकदमे वापस लेने के आदेश दिए गये हैं ।


यह बात खुद शैलेंद्र सिंह ने अपने फेसबुक अकाउंट से साझा की या है। उन्होंने कल एक पोस्ट डालकर और न्यायालय के आदेश की कॉपी डालकर बताया है कि उनके खिलाफ सभी मुकदमे वापस ले लिए गए हैं।
उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा है, ,,2004 में जब मैंने माफिया मुख्तार अंसारी पर एक केस में पोटा लगा दिया था, तो मुख्तार को बचाने के लिए तत्कालीन सरकार ने मेरे ऊपर केस खत्म करने का दबाव बनाया। जिसे न मानने के फलस्वरूप मुझे अपने पद से त्यागपत्र देना पड़ा था। उसवक्त राज्य में समाजवादी पार्टी की सरकार थी ।


इस घटना के कुछ महीने बाद ही तत्कालीन सरकार के इशारे पर, राजनीति से प्रेरित होकर मेरे ऊपर वाराणसी में आपराधिक मुकदमा लिखा गया और मुझे जेल में डाल दिया गया। लेकिन जब राज्य में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी तो, उक्त मुकदमे को प्राथमिकता के साथ वापस लेने का आदेश पारित किया गया, जिसे सीजेएम न्यायालय द्वारा पिछले 6 मार्च को स्वीकृति प्रदान की गई।


न्यायालय के आदेश की नकल आज ही प्राप्त हुई। मैं और मेरा परिवार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस सहृदयता का आजीवन ऋणी रहेगा। संघर्ष के दौरान मेरा साथ देने वाले सभी शुभेक्षुओं का, हृदय से आभार व्यक्त करता हूं।

Share this story