अजीत सिंह हत्याकांड : माफिया ध्रुव सिंह के तीन मंजिला मकान को प्रशासन ने ध्वस्त कराया.

newspoint24.com/newsdesk
आजमगढ़। लखनऊ में पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह की हत्या में नाम आने के बाद प्रशासन ने गुरुवार को डी-11 गैंग के माफिया ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह के ऊपर बड़ी कार्रवाई की है। प्रशासन ने माफिया का जीयनपुर कस्बे में स्थित तीन मंजिला मकान को ध्वस्त करा दिया है। इस कार्रवाई के दौरान जिले के आलाधिकारी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर मौजूद रहे। इससे पहले प्रशासन ने माफिया कुंंटू सिंह के करीब दस करोड़ रूपये का कॉलेज, भूमि आदि जब्त कर चुकी है।

लखनऊ में बुधवार की रात को मोहम्मदाबाद गोहना के पूर्व ब्लॉक प्रमुख, गैंगस्टर अजीत सिंह की हत्या कर दी गयी थी। इस हत्याकांड में आजमगढ़ जेल में बंद डी-11 गैंग के माफिया ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह का नाम सामने आया। इसके बाद गुरूवार को जिलाधिकारी राजेश कुमार, पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह के साथ भारी पुलिस बल जीयनपुर कोतवाली के जीयनपुर नगर पंचायत में पहुंचा। जहां माफिया ध्रुव के तीन मंजिला मकान पर जेसीबी चलाकर ध्वस्त कर दिया। इस पूरी कार्रवाई के दौरान आलाधिकारी मौके पर जमे रहे हैं।

बतातें चलें कि, पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह की हत्या के बाद गुरूवार को सगड़ी के पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू के भाई संतोष सिंह टीपू पुलिस अधीक्षक से मिलकर परिवार और अन्य गवाहों की सुरक्षा की मांग की थी। उन्होंने आरोप लगाया कि ध्रुव सिंह ने उनके भाई की हत्या में गवाही अजीत सिंह न कर सके इसके लिए धमका रहा था और उनकी हत्या करा दिया।

डी-11 गैंग का संचालन ध्रुव

जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के छपरा सुल्तानपुर गांव निवासी माफिया ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह डी-11 गैंग का संचालन करता है। सगड़ी के पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू की हत्या सहित 71 संगीन अपराध उसके खिलाफ दर्ज है। कुंटू सिंह लंबे समय से जेल में निरूद्ध है। वर्ष 2013 में उसके खिलाफ गैंगस्टर भी लगाया गया है। प्रशासन ने इससे पहले माफिया कुंटू सिंह की नौ करोड़ की संपत्ति, वही करीब एक करोड़ रुपये की 21 बीघा भूमि प्रशासन ने पहले ही जब्त कर चुका है।

Share this story