यूपी में कोरोना के एक दिन में 4164 मामले, सरकार अलर्ट मोड़ पर नयी गाइडलाइन जारी हुई

Newspoint24.com/newsdesk

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या से चिंतित सरकार ने नियमों को और कड़ा करने का फैसला किया है।

प्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4164 नये मामले सामने आये है जिनमें अकेले राजधानी लखनऊ में मिले मरीजों की संख्या 1129 है। इसके अलावा वाराणसी में 453,प्रयागराज में 397 और कानपुर में 235 नये केस सामने आये हैं। इस अवधि में 31 मरीजों की मौत हो गयी। राज्य में अब कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 19 हजार 738 हो चुकी है।

कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सरकार ने नियमों को और सख्त बनाते हुये जिलाधिकारियों से इसके सख्त पालन कराने की नसीहत दी है। सूबे के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने नयी गाइडलाइन जारी करते हुये कोरोना के प्रत्येक नया मामला मिलने पर 25 मीटर के रेडियस को कंटेटमेंट जोन बनाने और एक से अधिक मामलों की दशा में 50 मीटर क्षेत्रफल को कंटेटमेंट जोन बनाने के निर्देश दिये हैं।

स्वास्थ्य विभाग की टीम घर घर जाकर खांसी जुकाम बुखार के मरीजों को चिन्हित करेगी और उनका संपूर्ण विवरण एकत्र किया जायेगा। कंटेटमेंट जोन में कम से कम 14 दिनों तक आने जाने की पूर्णत: पाबंदी होगी।

उधर, स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार सिर्फ लखनऊ में सक्रिय मामलों की संख्या 6283 है जबकि प्रयागराज में 1516,वाराणसी में 1543 और कानपुर में 962 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। लखनऊ में पिछले 24 घंटे में कोरोना से आठ मरीजों की मौत हुयी है वहीं प्रयागराज में चार,कानपुर में तीन और वाराणसी में दो लोगों ने बीमारी से हार मानी है।

पिछले 24 घंटे में एक लाख 77 हजार 695 नमूनों की जांच की गयी है जिसे मिलाकर राज्य में अब तक तीन करोड़ 54 लाख 13 हजार 966 नमूने जांचे जा चुके है। आज तक सूबे में छह लाख 25 हजार 923 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है हालांकि इनमें से छह लाख एक हजार 440 मरीज स्वस्थ हुये वहीं 8881 की मौत हो गयी।

Share this story