आईएसएल 7 :10 खिलाड़ियों के साथ ब्लास्टर्स ने जमशेदपुर को 3-2 से हराया

newspoint24.com/newsdesk

गोवा। केरला ब्लास्टर्स ने 67वें मिनट से 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रहे होने के बावजूद रविवार रात  तिलक मैदान स्टेडियम में खेले गए 10वें राउंड के मुकाबले में जमशेदपुर एफसी को 3-2 से हरा दिया। यह हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में ब्लास्टर्स की यह दूसरी जीत है।

जार्डन मरे द्वारा तीन मिनट के भीतर किए गए दो गोलों की मदद से मिली इस जीत से ब्लास्टर्स के नौ अंक हो गए है लेकिन 11 टीमों की तालिका में उसकी स्थिति नहीं सुधरी है। वह अभी भी 10वें स्थान पर ही है। दूसरी ओर, 10 मैच में जमशेदपुर की यह तीसरी हार है। वह पांचवें स्थान पर बना हुआ है। 

पहला हाफ काफी रोमांचक रहा और 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुआ। प्वाइंट टेबल में सबसे नीचे काबिज ब्लास्टर्स के कोस्टा नामोइन्सु ने 22वें मिनट में गोल दागते हुए अपनी टीम को लीड दिला दी थी लेकिन जमशेदपुर ने अपने सुपरस्टार नेरीजुस वाल्सकिस द्वारा डाइरेक्ट फ्रीकिक पर गिए गए गोल की मदद से 36वें मिनट में बराबरी कर ली। 

ब्लास्टर्स की टीम अभी बेहतर स्थिति में रही होती लेकिन जमशेदपुर के गोलकीपर टीपी रेहेनेश ने कई मौकों पर उसे निराश किया। ब्लास्टर्स के खिलाड़ियों ने भी गोल करने के कई अच्छे मौके गंवाए। इसी तरह का एक मौका 12वें मिनट में आया था जब जार्डन मरे को सिर्फ रेहेनेश को छकाना था लेकिन वह गेंद बाहर मार बैठे। इसके 10 मिनट बाद हालांकि ब्लास्टर्स ने लीड ले ली। यह गोल सेट पीस पर हुआ। 

कोस्टा ने यह गोल फाकुंदो पेरेरा के शानदार पास पर स्टीफन इजे से बचते हुए हेडर के जरिए किया। यह इस सीजन का उनका पहला गोल है। 24वें मिंनट में ब्लास्टर्स के गोलकीपर एल्बीनो गोम्स ने वाल्सकिस और 31वें मिनट में मोहम्मद मोसाबिर को अपनी टीम का पहला गोल करने से रोका लेकिन 36वें मिनट में वह वाल्सकिस को गोल करने से नहीं रोक सके। वाल्सकिस ने इस सीजन का अपना सातवां गोल फ्रीकिक पर डाइरेक्ट शाट पर किया।


 इसके बाद ब्लास्टर्स ने फिर जोर लगाया लेकिन रेहेनेश ने 43वें और इंजुरी टाइम में दो शानदार बचाव करते हुए अपनी टीम की पिछड़ने से बचाया। दूसरे हाफ के शुरुआती 20 मिनट में दोनों टीमों ने लगातार प्रयास किए लेकिन लीड किसी को नहीं मिली। इस दौरान रेहेनेश ने एक बार फिर अपनी टीम के लिए कुछ अच्छे बचाव किए। साथ ही जमशेदपुर की डिफेंस लाइन भी मुस्तैद थी। 

 65वें मिनट में जैकीचंद सिंह का एक शाट पोस्ट से टकराकर लौट गया। ब्लास्टर्स इस संकट से तो उबर गए लेकिन अगले ही मिनट लालरुआथारा को दूसरा पीला कार्ड मिला। इससे पहले उन्हें पीला कार्ड दिखाया जा चुका था। वह मैदान से बाहर जाने को मजबूर हुए। साथ ब्लास्टर्स 10 खिलाड़ियों के साथ खेलने को मजबूर हुए।

 एसी उम्मीद थी कि जमशेदपुर इस स्थिति का फायदा उठाकर तीन अंक हासिल कर लेगा लेकिन ब्लास्टर्स ने उसे कोई मौका नहीं दिया और उलटे 79वें मिनट में गोल करते हुए 2-1 की लीड ले ली। मरे काफी समय से कोशिश में जुटे थे और आखिरकार उन्हें सफलता मिल ही गई। मरे यही नहीं रुके। 82वें मिनट में उन्होंने एक और गोल करते हुए अपनी टीम को 3-1 से आगे करते हुए उसकी जीत लगभग पक्की कर दी लेकिन वाल्सकिस को शायद यह मंजूर नहीं था। 

वाल्सकिस ने 84वें मिनट में गोल करते हुए स्कोर 2-3 कर । इंजुरी टाइम में मरे ने हैट्रिक की कोशिश की लेकिन रेहेनेश ने उन्हें सफल नहीं होने दिया। बावजूद इसके वह अपनी टीम को हार से नहीं बचा सके। 

Share this story