आईओसी उत्तर कोरिया के लिए आयोजित स्लॉट को पुनर्वितरित करने पर कर रही विचार

Olympics

Newspoint24.com/newsdesk

टोक्यो । टोक्यो ओलंपिक के करीब आने के साथ ही अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) उत्तर कोरिया के लिए आयोजित स्लॉट को पुनर्वितरित करने पर विचार कर रही है।

जापानी न्यूज एजेंसी क्योडो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, आईओसी के एक अधिकारी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए स्लॉट्स के आवंटन को अंतिम रूप देने की आवश्यकता है क्योंकि एथलीट खेलों में भाग लेने के बारे में जानकारी की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

बता दें कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर उत्तर कोरिया ने टोक्यो ओलंपिक में भाग न लेने का फैसला लिया है। 1988 में हुए शीत युद्ध के बाद यह पहला मौका होगा जब खेलों के महाकुंभ से कोरिया बाहर होगा। 23 जुलाई से 8 अगस्त के बीच टोक्यो में होने वाले इन ओलंपिक का आयोजन बीते साल 2020 में ही होना था, लेकिन कोरोना के चलते द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पहली बार इन्हें टाला गया।

इस बीच, ओलंपिक खेलों के लिए जापान में प्रवेश करने के बाद विदेशी मीडिया कर्मियों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उनका जनता से कोई संपर्क नहीं है।

The logo for the Tokyo 2020 Olympic Games is seen in Tokyo on March 15, 2020.

टोक्यो ओलंपिक प्रमुख सेको हाशिमोतो ने कार्यकारी बोर्ड की बैठक में कहा कि जापान अभी भी "बहुत कठिन स्थिति" में है, और "यह सुनिश्चित करने के लिए कि विदेशी मीडिया के लोग उन स्थानों के अलावा अन्य स्थानों पर न जाएं जहां वे जाने के लिए पंजीकृत हैं, हम उनपर नजर रखने के लिए जीपीएस का उपयोग करेंगे।"

गौरतलब है कि विदेश से आने वाले मीडियाकर्मियों को खेलों के दौरान पूर्व-निर्धारित गंतव्यों को प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है और जीपीएस के उपयोग के साथ, आयोजकों द्वारा उन्हें ट्रैक किया जा सकता है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि आगमन के बाद पहले 14 दिनों के दौरान वे क्वारन्टीन में हैं।

टोक्यो 2020 के सीईओ तोशीरो मुतो ने कार्यकारी बोर्ड की बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, "यदि कोई उल्लंघन पाया जाता है, तो निलंबन या मान्यता से वंचित या निर्वासन की कार्यवाही जैसे उपाय लागू किए जाएंगे।14 दिनों के बाद, वे सामान्य मीडिया कवरेज में संलग्न हो सकते हैं।"

Share this story