यादों के झरोखे से : फखर जमान ने एकदिवसीय क्रिकेट में आज ही के दिन खेली थी दोहरी शतकीय पारी

यादों के झरोखे से : फखर जमान ने एकदिवसीय क्रिकेट में आज ही के दिन खेली थी दोहरी शतकीय पारी

Newspoint 24 / newsdesk

नई दिल्ली । पाकिस्तानी क्रिकेट प्रशंसकों के लिए आज का दिन काफी यादगार है।

तीन साल पहले आज ही के दिन 20 जुलाई 2018 को पाकिस्तान ने जिम्बाब्वे के खिलाफ अपने एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर खड़ा किया था। यही नहीं पाकिस्तानी बल्लेबाज फखर जमान ने भी इस मैच में अपने करियर की सबसे बड़ी पारी खेल डाली थी।

पाकिस्तान की टीम जुलाई 2018 में जिंबाब्वे दौरे पर थी। दौरे पर एकदिवसीय श्रृंखला का चौथा मुकाबला बुलावायो में खेला गया था। चौथे एकदिनी मैच में पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पाकिस्तानी टीम ने इस मैच में 50 ओवर में सिर्फ एक विकेट खोकर 399 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया।

पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक और फखर जमान ने जमकर कहर ढाया। एक तरफ जहां इमाम उल हक ने 122 गेंदों में 113 रनों की पारी खेली। वहीं दूसरे ओपनर फखर जमान ने 156 गेंदों में नाबाद 210 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी में 5 छक्के और 24 चौके शामिल रहे। फखर जमान ने इस दौरान 221 मिनट तक बल्लेबाजी की और उनका स्ट्राइक रेट 134.61 रहा। फखर जमान ने इसी के साथ 21 साल पुराना सईद अनवर का रिकॉर्ड तोड़ डाला। सईद अनवर ने 1997 में 194 रनों की पारी खेली थी जो इस तारीख तक किसी भी पाकिस्तानी खिलाड़ी की सबसे बड़ी एकदिवसीय पारी थी। फखर जमान ने अब वो रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था।

जवाब में जिंबाब्वे की टीम 42.4 ओवर में महज 155 रन पर सिमट गई। पाकिस्तानी स्पिनर शादाब खान ने सर्वाधिक 4 विकेट झटके। इसी के साथ पाकिस्तान ने 244 रन के अंतर से जीत दर्ज की। ये रनों के अंतर से पाकिस्तान की एकदिनी क्रिकेट में दूसरी सबसे बड़ी जीत साबित हुई। रनों के हिसाब से उनकी सबसे बड़ी जीत 2016 में आई थी जब उन्होंने एक और कमजोर टीम आयरलैंड को हराते हुए 255 रनों से मैच जीता था।

Share this story