भारत की 21वीं महिला ग्रैंड मास्टर बनीं पंद्रह वर्षीय दिव्या देशमुख

Newspoint24 / newsdesk

Newspoint24 / newsdesk

बुडापेस्ट । पंद्रह वर्षीय दिव्या देशमुख भारत की 21 वीं महिला ग्रैंड मास्टर (डब्ल्यूजीएम) बन गईं हैं। दिव्या ने यह उपलब्धि बुधवार को बुडापेस्ट, हंगरी में फर्स्ट सटर्डे ग्रैंड मास्टर (जीएम) में अपना दूसरा अंतरराष्ट्रीय मास्टर (आईएम) हासिल करने के बाद हासिल की।

उन्होंने नौ राउंड में पांच अंक बनाये और 2452 रेटिंग अंक हासिल किये। अब वह अंतरराष्ट्रीय मास्टर बनने से एक नॉर्म दूर है।

साई मीडिया ने ट्वीट किया, "15 वर्षीय दिव्या देशमुख बुडापेस्ट के फर्स्ट सटर्डे ग्रैंड मास्टर (जीएम) अक्टूबर 2021 में अपना दूसरा आईएम (उसका अंतिम डब्ल्यूजीएम मानदंड) हासिल करने के बाद भारत की 21 वीं महिला ग्रैंड मास्टर (डब्ल्यूजीएम) बन गई। उन्होंने अपने अंतिम डब्ल्यूजीएम मानदंड को सुरक्षित करने के लिए 2452 रेटिंग के साथ नौ राउंड में पांच अंक का स्कोर किया। बहुत बधाई दिव्या।"

वहीं, महाराष्ट्र की दिव्या ने ट्वीट किया, "दूसरा अंतरराष्ट्रीय मास्टर नॉर्म और आखिरी महिला ग्रैंडमास्टर नॉर्म पूरा कर लिया। आगामी टूर्नामेंटों में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है।"

हिन्दुस्थान समाचार

Share this story