हालात में सुधार के अब पंजाब में 26 जुलाई से स्कूल खोल जाने का ऐलान

Amarinder Singh

Newspoint 24 / newsdesk 


चंडीगढ़ । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने हालात में सुधार को देखते हुये कोविड प्रतिबंधों में ढील देते हुये 26 जुलाई से दसवीं, ग्यारहवीं और बारहवीं क्लासों के साथ स्कूल खोले जाने की घोषणा की ।

इसके साथ ही इनडोर जमावड़ों के लिए लोगों की अधिकतम संख्या बढ़ाकर 150 व्यक्ति जबकि आउटडोर जमावड़ों के लिए 300 व्यक्ति कर दी गई है लेकिन क्षमता की ऊपरी सीमा 50 प्रतिशत तक रखने की शर्त होगी। कोविड स्थिति की समीक्षा के लिये बुलाई बैठक में उन्होंने आज यहां कहा कि स्कूलों को दसवीं से बारहवीं तक की क्लासें लगाने की अनुमति होगी लेकिन वही अध्यापक और स्टाफ को आने की अनुमति होगी जिनका पूरी तरह टीकाकरण हुआ हो। उन्होंने कहा कि इस बारे में संबंधित उपायुक्तों को लिखित तौर पर सूचित करना होगा।


मुख्यमंत्री कहा कि यदि स्थिति काबू में रही तो बाकी क्लासें भी इसी तरह 2 अगस्त से खोलने की अनुमति होगी। कैंब्रिज यूनिवर्सिटी ने भविष्यवाणी की है कि आने वाले हफ़्तों में मामलों में और कमी आयेगी। उन्होंने बार, सिनेमा हॉल, रैस्टोरैंट, स्पा, स्विमिंग पूल, कोचिंग सैंटर, स्पोर्टस कंपलैक्स, जिम, मॉल़, म्यूज़ीयम, चिड़ियाघर आदि को कोविड टीकाकरण के पालन को यकीनी बनाकर 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोलने के दिए गए आदेशों के कुछ दिनों बाद आज यह राहत दी गई है। कॉलेजों, कोचिंग सैंटरों और उच्च शिक्षा के अन्य सभी संस्थानों को भी ऐसे ही पालन के साथ खोलने की अनुमति दी थी।


कोविड की स्थिति के बारे में वर्चुअल बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड के स्वरूप में आए बदलाव संबंधी मासिक आंकड़ों ने दिखाया है कि 90 प्रतिशत से अधिक वायरस की किस्म चिंताजनक है क्योंकि मूल वायरस व्यावहारिक तौर पर अन्य किस्मों में बदल चुका है और जून महीने में भी डेल्टा ने ज़ोर पकड़ा हुआ था। उन्होंने कहा कि हालाँकि डेल्टा प्लस का कोई नया केस नहीं है।

Share this story