त्रिपुरा में टीएमसी ने बीजेपी पर लगाया पुलिस थाने के सामने अपने कार्यकर्ताओं को लाठी-डंडो से पीटने का आरोप 

In Tripura, TMC accuses BJP of beating its workers with sticks in front of the police station.

टीएमसी के सदस्यों ने कहा कि पुलिस स्टेशन के भीतर बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने उन्हें राज्य पुलिस के सामने लाठी-डंडो से बेरहमी से पीटा।

 इतना ही नहीं, उनके ऊपर पथराव भी किया गया।  हालांकि बीजेपी ने टीएमसी के सभी आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि यह सभी आरोप निराधार हैं। 

Newspoint24/ संवाददाता /एजेंसी इनपुट के साथ 


अगरतला। तृणमूल कांग्रेस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर गंभीर आरोप लगाते हुए जोरदार हमला बोला है। टीएमसी के सदस्यों ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि त्रिपुरा केअगरतला  स्थित एक पुलिस स्टेशन में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उन्हें जमकर पीटा है।  टीएमसी के सदस्यों ने कहा कि पुलिस स्टेशन के भीतर बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने उन्हें राज्य पुलिस के सामने लाठी-डंडो से बेरहमी से पीटा।  इतना ही नहीं, उनके ऊपर पथराव भी किया गया।  हालांकि बीजेपी ने टीएमसी के सभी आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि यह सभी आरोप निराधार हैं। 

टीएमसी कार्यकर्ताओं ने अपने बयान में कहा, ‘हमारी पार्टी की नेता सायोनी घोष  त्रिपुरा के जिस होटल में ठहरीं थीं। अचानक वहां पुलिस पहुंची और उन्हें पूछताछ के लिए थाने ले गई। लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि हमारी नेता सायोनी घोष को आखिर किस आधार पर और किस मामले में पूछताछ के लिए थाने ले जाया जा रहा है।  हालांकि पुलिस के बुलाने के बाद पार्टी की नेता सायोनी घोष और कुणाल घोष समेत अन्य कार्यकर्ता अगरतला थाने पहुंचे थे। 


टीएमसी ने कहा- ‘त्रिपुरा में जंगल राज’

टीएमसी ने आरोप लगाया कि थाने पहुंचने के कुछ ही देर बाद वहां बीजेपी के कार्यकर्ता बड़ी संख्या लाठी और डंडों के साथ थाने पहुंच गए और थाने के भीतर मौजूद हमारे कार्यकर्ताओं को लाठी-डंडों पीटने लगे। टीएमसी ने दावा किया कि इस घटना में तृणमूल पार्टी के कई कार्यकर्ता बुरी तरह से जख्मी हो गए। मौके पर मौजूद टीएमसी नेता कुणाल घोष ने बीजेपी पर जोरदार हमला करते हुए कहा, ‘त्रिपुरा में “जंगल राज” है। ’ उन्होंने कहा कि हमें पुलिस के सामने पीटा गया लेकिन पुलिस ने हमे बचाने का प्रयास तक नहीं किया और न ही कर्यकर्ताओं को कुछ कहा। 

कुणाल घोष ने आगे कहा, ‘पुलिस बीजेपी कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई करने के बजाय हमारे खिलाफ ही मामला दर्ज कर रही है और हमें तथा हमारे कार्यकर्ताओं को परेशान किया जा रहा है। ’ वहीं, ‘टीएमसी’ के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने इस घटना का एक वीडियो भी ट्विटर पर शेयर किया है, जिसमें एक व्यक्ति खून से लथपथ नजर आ रहा है। 

‘लगातार लोकतंत्र का मजाक बना रही भाजपा ’

इस वीडियों में पुलिसकर्मियों के एक बड़े समूह को भी इलाके में खड़ा देखा जा सकता है।  विडियो ट्वीट करते हुए बनर्जी ने लिखा, ‘बिप्लब देब इतने बेशर्म हो गए हैं कि अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश भी उन्हें परेशान नहीं करते हैं।  उन्होंने हमारे समर्थकों और हमारी महिला उम्मीदवारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के बजाय हमपर हमले करने के लिए गुंडे भेजे। ’ उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी के द्वारा लगातार लोकतंत्र का मजाक उड़ाया जा रहा है। 


यह भी पढ़ें :    

22 नवंबर को लखनऊ में महापंचायत का फैसला टिकैत बोले मुद्दे अभी बाकी है

Share this story