शशि थरूर भी बोले- घर के काम को मिलना चाहिए सैलरीड प्रोफेशन का दर्जा

newspoint24.com/newsdesk

नई दिल्ली । वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने महिला सशक्तिकरण की दिशा में घरेलू कामकाज में अधिकतम समय देने वाली महिलाओं को आर्थिक लाभ मिलने की वकालत की है। उन्होंने इस प्रकार के बेहतरीन आइडिया का स्वागत करते हुए कमल हासन की जमकर तारीफ की है।

शशि थरूर ने मंगलवार को ट्वीट कर कमल हासन के उस विचार का स्वागत जरूरी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि घर के काम को सैलरीड प्रोफेशन का दर्जा दिया जाना चाहिए और राज्य सरकारों को इसके लिए घर का काम करने वाली महिलाओं को मासिक भत्ता दिया जाना चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा कि इस कोशिश के जरिए समाज में घरेलू महिलाओं की मेहनत को पहचान मिलेगी और उनकी सेवाओं का मुद्रीकरण होगा। इस तरह उनकी शक्ति, स्वायत्ता में वृद्धि होगी और यूनिवर्सल बेसिक इनकम के नजदीक पहुंचने में मदद मिलेगी।

दरअसल, अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने आगामी तमिलनाडु चुनाव को लेकर बीते दिनों में वादा किया था कि अगर उनकी पार्टी ‘मक्कल नीदि मय्यम’ (एमएनएम) सत्ता में आती है तो वे घरेलू कामकाज करने वाली महिलाओं को मेहनताना देंगे। उन्होंने कहा था कि मुद्रिकरण की इस प्रक्रिया के तहत वे घरेलू महिलाओं को सम्मानित करेंगे।

उल्लेखनीय है कि देश की राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय की तरफ से बीते वर्ष सितम्बर माह में जारी सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक भारत में महिलाओं को अपने कुल काम के 84 फीसदी घंटे अनपेड लेबर में खर्च करने पड़ते हैं। वहीं पुरुष 80 फीसदी घंटे पेड लेबर में देते हैं। उनमें सिर्फ 21 फीसदी महिलाओं को ही अपना काम का मेहनताना मिलता है। दूसरी ओर वर्ल्ड इकॉनमिक फोरम की रिपोर्ट से भी साफ है कि भारत में महिलाओं का 66 फीसदी काम अनपेड लेबर का होता है। महिलाएं दिन के 352 मिनट घरेलू कामकाज में खर्च करती हैं, जबकि पुरुष सिर्फ 52 मिनट ही घर के कामों में हाथ बंटाते हैं।

Share this story